रांची, जागरण संवाददाता। चारा घोटाले के दो मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद सीबीआइ के विशेष कोर्ट में पेश हुए। लालू प्रसाद से मिलने उनके समधी शिवकुमार यादव और जितेंद्र यादव भी कोर्ट पहुंचे थे। इसके अलावा बिहार के सीतामढ़ी के रुन्नी सैदपुर की विधायक मंगीता देवी और उनके पति व राजद राज्य परिषद सदस्य भारत भूषण भी कोर्ट पहुंचकर लालू से मिले। 

विधायक मंगीता देवी ने लालू प्रसाद की मांग पर विशेष जायका लेकर पहुंची है। विधायक अरहर दाल, साठी का चावल सहित अमरूद, सेव, संतरा और अनार लेकर पहुंची हैं। कोर्ट परिसर में लालू को लेकर पहुंचे कैदी वाहन में उक्त खाघ सामग्री लोड नहीं हो पाया तो विधायक बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा में लालू को पहुंचाने चली गई। उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद को साठी का चावल और अरहर का दाल काफी पसंद है। पिछले दिनों लालू प्रसाद से मिलने आई थीं, तो यह सामग्री लाने का को कहा था।

इधर, लालू प्रसाद डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित मामले में में सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश प्रदीप कुमार की अदालत में पेश हुए। इस मामले में सीबीआइ की ओर से 2 लोगों की गवाही होनी थी, लेकिन गवाह नहीं पहुंचे। सीबीआइ के वरीय विशेष लोक अभियोजक बीएमपी सिंह ने बताया कि नागालैंड के कोहिमा के आरटीओ और जुनहेबातो के डीटीओ को गवाही देने अदालत में आना था, लेकिन उन्होंने आज सूचित किया कि उनकी ड्यूटी चुनाव में लगा है, इसलिए वे गवाही देने नहीं आ पाएं। वे 27 के बाद गवाही देने अदालत में आएंगे।

कोर्ट से निकले लालू प्रसाद ने पाकिस्तान द्वारा शुल्क मांगे जाने पर कहा कि, तो मोदी जी जल्दी लौटावस, पैसा नहीं तो युद्ध होगा। लालू प्रसाद कोर्ट से निकलकर जेल चले गए हैं। 

By Preeti jha