रांची : पायलट की सूझबूझ के कारण इंडिगो का विमान हादसे का शिकार होने से बच गया। सोमवार को रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर लैंड करने के तुरंत बाद ही विमान मे खराबी आ गई थी। समय रहते पायलट को विमान के इंजन मे तकनीकि खराबी का पता चल गया था, जिस वजह से बड़ा हादसा टल गया। कुछ ही देर मे विमान 155 यात्रियो के साथ रांची से दिल्ली के लिए उड़ान भरने वाला था। इंडिगो की विमान संख्या 6ई-398 निर्धारित समय सुबह 09:09 बजे दिल्ली से रांची एयरपोर्ट पर लैड किया था। रांची से 155 यात्रियो को लेकर पुन: 9:35 मे दिल्ली के लिए उड़ान थी ।

बोर्डिग शुरु होने से पहले पायलट को विमान की इंजन मे घर्षण का आवाज सुनाई दी। पायलट ने फौरन एटीसी से संपर्क कर इंजन मे तकनीकि खराबी की आशंका जताई। शीघ्र ही इसकी सूचना इंजीनियर को दी गई। कुछ ही देर मे इंडिगो एयरलाइंस की अधिकारी समेत इंजीनियर की टीम मौके पर पहुंच गई। लगभग डेढ़ घंटे की मसक्कत के बाद विमान के इंजन से तकनीकि खराबी को दूर किया गया। विमान के पोर्ट इंजन मे तकनीकि फॉल्ट बताया गया। जिस कारण घर्षण आवाज आ रही थी। फॉल्ट दूर करने के बाद विमान को रनवे पर ट्रायल किया गया। पूरी तरह आश्वस्त होने के बाद विमान को उड़ान भरने की अनुमति दी गई। यात्रियो को गुजारना पड़ा लंबा वक्त विमान मे खराबी आने के कारण यात्रियो को रांची एयरपोर्ट पर यात्रियो को दो घंटे से ज्यादा का समय वेटिंग रूम मे गुजारना पड़ा । विमान ने ढाई घंटा विलंब से दोपहर 12 बजकर चार मिनट पर रांची से दिल्ली के लिए उड़ान भरा। कोलकाता का विमान राची डायवर्ट पटना से कोलकाता जानेवाले इंडिगो 6ई-708 को विमान को रांची डायवर्ट किया गया। कोलकाता एयरपोर्ट पर रनवे मेटिनेस का काम चलने के कारण ऐसा किया गया। फिलहाल कोलकाता एयरपोर्ट पर एक ही रनवे के सहारे विमान की परिचालन हो रहा है। एयर रनवे व्यस्त होने के कारण एटीसी द्वारा विमान को कोलकाता मे उतरने की अनुमति नही दी गई। बैकअप एयरपोर्ट होने के कारण कोलकाता एटीसी द्वारा रांची एयरपोर्ट के एटीसी से विमान की लैडिंग की अनुमति मांगी। विमान ने दोपहर 3 बजकर बीस मिनट पर रांची एयरपोर्ट पर लैंड किया। लगभग पचपन मिनट रुकने के बाद शाम चार बजकर पंद्रह मिनट मे कोलकाता के लिए उड़ान भरी।