रांची : राजधानी मे डोरंडा के बाद अब बरियातू मे ऐसा मामला सामने आया है, जिसमे नगर निगम का ठेकेदार बनकर श्री जगन्नाथ इंजिकॉन के मालिक आनंद कुमार ने राजीव आवास योजना के लगभग 80 लाभुको को करोड़ो का चूना लगाकर फरार हो गया। रोहन तिर्की समेत पांच लोगो ने रविवार को बरियातू थाने मे अपने साथ हुई धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। पुलिस मामले की छानबीन मे जुट गई है। रविवार को बड़ी संख्या मे बरियातू आदिवासी टोला के लाभुक जुटकर बरियातू थाना पहंुचे थे। थाने मे ठगी के शिकार लोगो ने हंगामा भी किया। मौके पर आजसू महानगर अध्यक्ष मुनचुन राय भी पहंुचे थे। लोगो के अनुसार लगभग 80 लाभुको से ठगी की गई है। पीडि़त लाभुको के मुताबिक श्री जगन्नाथ इंजिकॉन का मालिक आनंद कुमार आदिवासी टोले मे आया और खुद को निगम का ठेकेदार बताकर आवास बनाने की जिम्मेदारी लेते हुए लोगो से राजीव आवास योजना की राशि मांगी। योजना राशि खाते मे रहने की बात बताने पर आनंद कुमार ने सादे चेक पर हस्ताक्षर ले लिए। कई से खाते मे ट्रांसफर भी करवाया। कुछ लोगो का आवास बनवाया, कुछ लोगो के आवास के लिए थोड़ी निर्माण सामग्री गिरवाई। इसके बाद वह फरार हो गया। ---- इनसे इतनी ठगी : रोहन तिर्की - 2.54 लाख चांगो उरांव - 2.54 लाख पहुवा उरांव - 1.73 लाख राजमुनी मुंडा -1.74 लाख छोटू मुंडा - 2.12 लाख ----------- डोरंडा के बड़ा घाघरा मे 600 लाभुको से हो चुकी है ठगी : वार्ड-50 स्थित बड़ा घाघरा मे राजीव आवास योजना के लगभग 600 लाभुको को करोड़ो का चूना लगाया गया है। केद्र सरकार की योजना के तहत राज्य सरकार ने पक्का मकान बनाने के लिए राशि दी, जिसे ठेकेदारो ने चेक पर हस्ताक्षर या अंगूठा का निशान लगवाकर उनके बैक खाता से पहली, दूसरी व तीसरी किस्त की राशि की निकासी कर ली। इसके बाद चंपत हो गए। इस मामले मे लाभुक अमृत जे कच्छप ने डोरंडा थाना मे ठेकेदार गोपी राव के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। इसमे वार्ड पार्षद लक्ष्मण कच्छप को भी आरोपी बनाया गया था। मामले मे लाभुको ने राज्य मानवाधिकार आयोग सहित कई जगहो पर शिकायत दर्ज कराई थी। --------

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस