रांची, जागरण संवाददाता। झारखंड राज्य क्रिकेट संघ द्वारा लिए गए योयो टेस्ट ने झारखंड टीम का प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ियों के फिटनेस की पोल खोल दी। बुधवार को जेएससीए स्टेडियम में आयोजित यो-यो टेस्ट में आधे से अधिक खिलाड़ी फेल हो गए।

टीम इंडिया में जगह बनाने के लिए यो-यो टेस्ट में पास होना जरूरी होता है। उसी तर्ज पर चलते हुए झारखंड राज्य क्रिकेट संघ ने खिलाड़ियों के फिटनेस टेस्ट के लिए यो-यो टेस्ट कराया। टेस्ट के लिए 16.1 अंक लाना अनिवार्य था। लेकिन आधे से अधिक खिलाड़ी इसके आसपास भी नहीं पहुंचे। इस कारण झारखंड राज्य क्रिकेट संघ ने खिलाड़ियों को एक और मौका देने का निर्णय लिया है। 30 दिसंबर को एक बार फिर टेस्ट लिया जाएगा।

सूत्रों ने बताया कि यो-यो टेस्ट में सफल होने वाले खिलाड़ी ही सैयद मुश्ताक अली टी-20 टूर्नामेंट के लिए झारखंड टीम का प्रतिनिधित्व कर पाएंगे। खिलाड़ियों को ताकीद की गई कि जब 36 वर्ष की उम्र में धौनी यो यो टेस्ट पास हो सकते हैं तो वे क्यों नहीं हो सकते। यह पहला मौका है कि फिटनेस को लेकर इस तरह का टेस्ट जेएससीए द्वारा आयोजित किया गया है। 

यह भी पढ़ेंः दुनिया देखने के लिए इसलिए तरस रहीं हैं इनकी आंखें

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021