संवाद सूत्र, रजरप्पा(रामगढ़) : सरकार की समुचित व्यवस्था न होने के कारण जिले के बहुत किसान ऐसे भी है जो अभी भी बिचौलियों के हाथों धान बेचने को विवश है। पैक्स के धान अधिप्राप्ति केंद्र खुला तो है। लेकिन गोदामों के भरे होने व धान के उठाव न होने के कारण किसानों से पैक्स धान क्रय करने में असमर्थ हैं। दरहसल रामगढ़ जिला को एक लाख 80 हजार क्विटल धान की खरीदारी का लक्ष्य मिला है। सभी पैक्स अध्यक्ष को अपने निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने का निर्देश भी मिला है। उक्त बातें शनिवार को सहकारिता विभाग रामगढ़ हजारीबाग के सहायक निबंधक नियार होरो ने चितरपुर प्रखंड के मायल व लारीक्लां पैक्स का निरीक्षण के दौरान पत्रकारों से कहा। उन्होंने कहा कि जिला आपूर्ति पदाधिकारी सुदर्शन मुर्मू के निर्देशानुसार सोमवार से पैक्सों में रखे धान का उठाव शुरू कर दिया जाएगा। ताकि धान खरीद के निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके। वहीं निरीक्षण के दौरान उन्होंने पैक्स प्रबंधक से किसानों का कितनी धान की खरीदारी की गई इसकी जानकारी प्राप्त किया गया। मौके पर मायल पैक्स प्रबंधक सतीश महतो ने बताया कि अब तक 2026.15 क्विटल धान की खरीदारी की गई है। चूंकि धान का उठाव नही किया जा रहा है। जिसके कारण अभी धान की खरीदारी नही की जा रही है। जबकि मायल पैक्स को 15000 क्विटल धान खरीदारी का लक्ष्य मिला है। वही लारीकलां पैक्स प्रबंधक दिलीप कुमार महतो ने बताया कि उसने अभी तक 1164 क्विटल धान की खरीदारी की है। उठाव नही होने के कारण उन्होंने भी धान की खरीदारी अभी बंद कर दिया है। क्योंकि धान रखने की जगह दोनों जगह भर चुका है। उसका लक्ष्य 10 हजार क्विटल धान खरीद का है।

Edited By: Jagran