जागरण संवाददाता, रामगढ़ : गोला थाना क्षेत्र के चोपादारू स्थित मां तारा मंदिर को उड़ाने की साजिश को गोला थाना पुलिस ने नाकाम कर दिया है। पुलिस में त्वरित कार्रवाई करते हुए विस्फोटक पदार्थ के साथ चार अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने चोपादारू स्थित मां तारा मंदिर परिसर में के पास से पुलिस ने विस्फोटक पदार्थ(जिलेटिन-डेटोनेटर) तथा एक सफेद कागत में लाल रंग से हस्तलिखित एक धमकी भरा पर्चा बरामद किया था। सोमवार को एसपी प्रभात कुमार ने प्रेस वार्ता में पूरे मामले की जानकारी देते हुए बताया कि बताया कि गिरफ्तार अपराधियों के पास से चार जिलेटिन, चार डेटोनेटर, दो मोबाइल, दो पैशन प्रो बाइक भी जब्त किया गया है। एसपी ने बताया कि मां तारा मंदिर कमेटी से रुपये की उगाही करने के लिए अपराधियों ने योजना बनाई। इस योजना में शामिल गोला थाना क्षेत्र के तिरला गांव निवासी फिरोज अंसारी, चोपादारू निवासी राजन महतो, रजरप्पा थाना क्षेत्र के मारंगमरचा निवासी संजीव कुमार उर्फ छोटू तथा बोकारो जिले के महुआटांड़ थाना क्षेत्र अंतर्गत कंडेर गांव निवासी क्यूम अंसारी शामिल थे। चारों ने मिलकर सबसे पहले गत 29 सितंबर को मां तारा मंदिर परिसर में एक विस्फोटक पदार्थ जिलेटिन व धमकी भरा पर्चा छोड़ा था। उन्हें ऐसा लगा था कि इस धमकी भरे पत्र और जिलेटिन को वहां रखने से उन्हें वहां से लेवी मिलेगी। पुलिस ने तत्काल मुख्यालय डीएसपी संजीव कुमार मिश्रा के नेतृत्व में एक टीम बनाई और छापेमारी शुरू की। इसके बाद रविवार की रात रजरप्पा थाना क्षेत्र के नयामोड़ बड़की पोना से चारों को गिरफ्तार किया गया है। पूछताछ के दौरान चारों अपराधियों ने मां तारा मंदिर की घटना में की बात स्वीकार कर लिए। इनके निशानदेही पर पुलिस ने विस्फोटक बरामद किया गया। एसपी ने बताया कि गिरफ़्तार अपराधी अपना गिरोह बनाकर लेवी व रंगदारी बनाने की योजना बनाई थी। इनकी गिरफ़्तारी में गोला सर्किल इंस्पेक्टर विद्याशंकर, गोला थाना प्रभारी सिद्धांत, पुअनि विक्रम शील, अमित कुमार मार्डी, कुंदन कुमार राव, सअनि प्रदीप कुमार दूबे, तकनीकी सेल रामगढ़ की टीम

व सशस्त्र पुलिस बल ने सराहनीय भूमिका निभाई है।

Edited By: Jagran