रामगढ़ : एसपी निधि द्विवेदी ने बुधवार को छत्तरमांडू स्थित पुलिस आफिस में जिले भर के थाना व ओपी प्रभारियों के साथ पहली अपराध समीक्षा बैठक की। बैठक में एसपी ने थाना व ओपी वार लंबित कांडों की समीक्षा करते हुए जल्द कांडों का निष्पादन करने का निर्देश दिया। खासकर महिला उत्पीड़न, दुष्कर्म आदि जैसे कांडों का त्वरित गति से निष्पादन करने का निर्देश थानेदारों को दिया। एसपी ने स्पष्ट रूप से थाना प्रभारियों को अवैध कोयला कारोबार पर पूर्ण रूप से अंकुश लगाने का निर्देश देते हुए कहा कि जिले में कोयला या किसी तरह के आर्थिक अपराध की शिकायत मिलने पर उनपर सीधे कार्रवाई होगी। इसके अलावा एसपी ने थानेदारों को मुहर्रम व गणेश पूजा के मद्देनजर अपने-अपने थाना क्षेत्र में शांति समिति की बैठक करने व विशेष निगरानी रखने को कहा। वहीं विभिन्न बैंक की शाखाओं के समीप पेट्रो¨लग करने, अपराधियों पर नकेल कसने व नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए विशेष अभियान चलाने का निर्देश दिया। कुर्की-जब्ती व वारंट निष्पादन भी त्वरित गति से करने का निर्देश दिया गया। बैठक में रामगढ़ एसडीपीओ राधाप्रेम किशोर, मुख्यालय डीएसपी प्रकाश सोय, पतरातू एसडीपीओ प्रकाश चंद्र महतो, रजरप्पा थाना प्रभारी इंस्पेक्टर कमलेश पासवान, रामगढ़ थाना प्रभारी इंस्पेक्टर लिलेश्वर महतो, मांडू इंस्पेक्टर हरिनंदन ¨सह, गोला इंस्पेक्टर विद्यावति ओहदार सहित सभी थाना व ओपी के प्रभारी मौजूद थे।

Posted By: Jagran