जागरण संवाददाता, रामगढ़: अनुमंडल पदाधिकारी सुश्री कीर्तिश्री ने बुधवार को छतरमांडू स्थित सदर अस्पताल के एमटीसी(मातृ-शिशु) केंद्र का औचक निरीक्षण किया। इस क्रम में अनुमंडल पदाधिकारी ने अस्पताल के चिकित्सकों से एमटीसी केंद्र में भर्ती बच्चों के संबंध में विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने एमटीसी केंद्र में उपलब्ध मूलभूत सुविधाएं जैसे शौचालय, पेयजल, स्वच्छता आदि का निरीक्षण करते हुए सिविल सर्जन डा. नीलम चौधरी को सभी तरह के मूलभूत सुविधाएं एमटीसी केंद्र में अनिवार्य रूप से उपलब्ध रखने का निर्देश दिया। अनुमंडल पदाधिकारी ने जिला समाज कल्याण पदाधिकारी नचिकेता मिश्रा को किसी भी कुपोषित बच्चे को एमटीसी केंद्र में भर्ती करने के पूर्व बच्चे की मां को एमटीसी केंद्र में 15 दिनों तक रहने एवं इस दौरान ध्यान रखने योग्य बातों की विस्तार से जानकारी देने का निर्देश दिया। अनुमंडल पदाधिकारी ने सिविल सर्जन को भर्ती होने वाले कुपोषित बच्चे की मां को प्रतिदिन के हिसाब से सौ रुपये का भुगतान करने एवं जननी सुरक्षा योजना के तहत भोजन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021