चितरपुर : मायल मे ं पांच दिवसीय श्रीश्री 1008 रामचरित मानस पाठ सह  हनुमंत प्राण प्रतिष्ठा महायज्ञ शनिवार को कलश यात्रा के साथ शुरू हो गया। इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद पेयजल स्वच्छता मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी की पत्नी सह समाजसेवी सुनीता चौधरी व विशिष्ट अतिथि चितरपुर उत्तरी पार्षद गोपाल चौधरी, मुखिया टुशील देवी, शीला चौधरी मौजूद थे। मौके पर मुख्य अतिथि ने कहा कि महायज्ञ से क्षेत्र में भक्ति की बयार बहती है। इससे पूरे क्षेत्र का माहौल भक्तिमय हो जाता है। यज्ञ में शामिल होने वाले श्रद्धालुओं के घरों में सुख समृद्धि व धन दौलत व सरस्वती का वास होता है। इससे उनका जीवन सुखमय गुजरता है। तत्पश्चात उन्होंने महिलाओं के सर पर कलश रखकर उन्हें विदा किया। इससे पूर्व यज्ञस्थल से कलश यात्रा निकलकर दामोदर नदी तट पर पहुंचा। वहां अयोध्या से आए आचार्य बालेश्वर पांडेय  द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के पूजा अर्चना का कार्य कराया गया। इसके बाद जल भरकर महिलाएं वापस यज्ञस्थल पहुंचा। जहां कलशों को यज्ञ मंडप पर स्थापित किया गया। इस दौरान पूरा क्षेत्र जय श्री राम, जय बजरंगबली की जय, राम लखन जानकी, जय बोलो हनुमान की आदि नारों से गुंजयमान हो उठा। मौके पर गोला पार्षद ममता देवी,  आयोजन समिति के अध्यक्ष धनाराम महतो, सचिव सतीश महतो, कोषाध्यक्ष गोवर्धन महतो सहित सुचेन्द्रनाथ महतो, नंदकिशोर महतो, सुरेश महतो, विशेश्वर महतो, महेंद्र महतो, सुराली महतो, केदारनाथ महतो, सेवधर महतो, जवाहरलाल महतो, लालू महतो, ठाकुरनाथ महतो, मुनेश्वर महतो, धनेश्वर महतो, महेश महतो, मंजरु महतो, मटुकधारी महतो, सोहराय महतो, वरुण महतो, राजकुमार महतो, भुवनेश्वर महतो, लालू महतो, गणेश महतो, किशोर महतो, देवकी महतो  सहित कई मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप