रामगढ़ : रामगढ़ : अलीमुद्दीन हत्याकांड की सीबीआइ या एनआइए से जांच कराने की मांग को लेकर अटल विचार मंच के बैनर तले भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक शंकर चौधरी के नेतृत्व में मंगलवार को शहर में

तिरंगा यात्रा निकाली गई। तिरंगा यात्रा में भारी संख्या में महिला, पुरूषों व युवकों ने भाग लिया। तिरंगे झंडे के साथ लोग हत्याकांड की सीबीआइ जांच कराने की मांग को लेकर चट्टी बाजार, लोहार टोला होते हुए मेन रोड पहुंचें।

यहां पूर्व विधायक ने सुभाष चंद्र बोस की आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद सुभाष चौक के समीप समर्थकों के साथ 15 दिवसीय रात-दिन के धरने पर बैठ गए।  इस पहले चौधरी व हिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष दीपक सिसोदिया मां विघ्नेश्वरी मंदिर में बाल मुंडन कराया। पूर्व विधायक दुर्गा मंदिर परिसर में अपना मुंडन करवाने के बाद

बालों को मां दुर्गा के चरण में समर्पित कर कसम खाई कि जब तक जेल में बंद सभी 11 निर्दोष गोरक्षकों की

रिहाई नहीं हो जाती या राज्य सरकार पूरे मामले की सीबीआई या एनआइए से जांच कराने की घोषणा नहीं करती है, तब तक वह बाल नहीं बनाएंगे।

सुभाष चौक के समीप 24 अप्रैल तक धरना चलेगा। 26 अप्रैल से 30 अप्रैल तक जिले में नुक्कड़ सभा होगी। एक मई को रामगढ़ जिला बंद कर सिद्धू कानू मैदान से शहर में विशाल रैली निकाली जाएगी।

अलीमुद्दीन हत्याकांड की सीबीआइ जांच कराने की मांग को लेकर तिरंगा यात्रा में पूर्व विधायक शंकर चौधरी को लोगों का समर्थन मिला। इसमें सैकड़ों महिलाओं सहित भारी संख्या में लोग शामिल होकर सरकार विरोधी नारे लगाए। लोग जय श्री राम का नारा भी लगा रहे थे। धरने में बड़कागांव के पूर्व भाजपा विधायक लोकनाथ महतो, सांडी निवासी छत्रनाथ चौधरी सहित शहर के कई बुद्धिजीवियों ने शामिल होकर अपना समर्थन दिया। धरने में शामिल लोगों का कहना था कि अलीमुद्दीन अंसारी हत्याकांड में पुलिस की भूमिका काफी संदेहात्मक है। पुलिस ने अपनी रिपोर्ट में सभी लोगों को जबरन फंसाया है। सीबीआई जांच में ही घटना के बारे में सही पता चलेगा। लोगों ने कहा कि पुलिस की पिटाई से रामगढ़ थाना में ही अलीमुद्दीन की मौत हुई थी।

पूर्व विधायक शंकर चौधरी ने धरने को संबोधित करते हुए कहा यह आंदोलन हिन्दू-मुस्लिम की लड़ाई

नहीं बल्कि इंसान व अपराधी की लड़ाई है। अलीमुद्दीन एक अपराधी था। घटना के दिन सूचना देने के बाद पुलिस वहां डेढ़ घंटे के बाद पहुंची थी। पूर्व विधायक ने डीएसपी वीरेंद्र चौधरी पर पैसा लेकर केस मैनेज करने का आरोप लगाया। पूर्व विधायक लोकनाथ महतो ने कि यह शंकर चौधरी जनहित व निर्दोष लोगों को न्याय दिलाने के लिए आंदोलन चला रहे हैं। इसमें सच्चाई की जीत होगी। धरने को छत्रनाथ चौधरी, दीपक सिसोदिया, प्रदीप प्रजापति व दिनेश पाठक ने संबोधित किया। संचालन बलराम प्रसाद कुशवाहा व नमेंद्र चंचल ने किया। धरने व तिरंगा यात्रा में मुख्य रूप से उमेश प्रसाद, रामदेव प्रसाद, कमल ठाकुर, रामगढ़ युवा संघ के अध्यक्ष प्रभात अग्रवाल, उपाध्यक्ष आनंद कुशवाहा, सचिव सूरज प्रजापति, अभिषेक साव, दुर्गा विश्वकर्मा, अमित कुमार दास, संजय कुमार, ¨मटू कुशवाहा, जीतू कुमार, सागर कुमार,

भगवान प्रसाद, बसंत कुशवाहा, श्रीनारायण महतो, चरण केवल, कमल महतो, किशोर गिरी, रामेश्वर महतो, रवि प्रसाद, प्रदीप शर्मा, महेंद्र शर्मा, रामेश्वर महतो, प्रेम राम, योगेश दांगी, ब्रजेश महतो, अमलेश ¨सह, पार्वती देवी, नीलम देवी, गणेश महतो, रघुवीर ¨सह, गुरजीत ¨सह, भगवान साव, अशोक साहू, महेश मालाकार व राजू मालाकार आदि मौजूद थे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021