वेस्ट बोकारो : आटा हो या कॉस्मेटिक्स स्वदेशी अपनाएं और देश को आर्थिक रूप से प्रगति की राह दिखाएं। उक्त बातें टाटा स्टील की सीएचआरओ श्रीमती पी शंथिल कुमार ने बुधवार को स्थानीय 12 नं. शॉपिंग सेन्टर में स्थित वेस्ट बोकारो को-ऑपरेटिव स्टोर्स की नई दुकान पतंजलि स्वदेशी उत्पाद एवं स्टेशनरी स्टोर का उद्घाटन करने के बाद कही। इसके पहले मुख्य अतिथि श्रीमति शंथिल और भारत विकास परिषद् की संरक्षिका सुनीता रजोरिया ने संयुक्त रूप से फीता काट कर उक्त स्टोर का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर राकोमसंघ वेस्ट बोकारो शाखा के सचिव शंभुशरण प्रसाद सिंह, उपाध्यक्ष मुसाफिर सिंह यादव, श्रवण कुमार सिंह, को-ऑपरेटिव के सचिव परमेश्वर राम, कोषाध्यक्ष आनन्द प्रसाद सिन्हा, प्रबन्धक सिद्घिनाथ सिंह, दहिन कुमार सिंह, अनिल प्रसाद सिन्हा, हेड एडमिनिस्ट्रेशन डा. बाल्मिकी कुमार, मानव संसाधन के वरीय प्रबन्धक राजेन्द्र कुमार, एएन सिन्हा, रवि निषाद, श्रीमति सलोमी बिलूंग, भारत विकास परिषद की अध्यक्षा डा. श्रीमति शबरी पटवारी, श्रीमति अनीता वर्मा, श्रीमति दीपा गुप्ता, श्रीमति ज्योति जाटिया, स्टोर्स कर्मियों में शिव कुमार सिंह आदि लोग मौजूद थे।

मौके पर मौजूद कल्याण विभाग के वरीय प्रबन्धक बीसी पाठक व बीब राय ने अतिथियों को बताया कि वेस्ट बोकारो को-ऑपरेटिव स्टोर्स की मासिक सेल करीब 15 लाख है जो इनके 2500 सदस्यों के क्रय से होता है। उन्होंने बताया कि आरम्भ में इसके मात्र 225 सदस्य ही थे। जो आज बढ़ कर 2500 हो चुके है। यह संख्या डिवीजन के कुल कर्मचारियों का 75 प्रतिशत है।

वहीं मौके पर विशेष रूप से आये पतंजलि स्वदेशी उत्पाद के वितरक नीरज कुमार ने अतिथियों को बताया कि किस प्रकार पतंजलि स्वदेशी उत्पाद औरों से बेहतर है। जैसे आटा, सरसो तेल, च्यवनप्राश और नहाने के साबुन, शैप्पू या अन्य कॉस्मेटिक्स। महिला अतिथियों ने बताया कि पहले से ही वे इन स्वदेशी सामग्रियों का उपयोग अपने अपने घरों में करती आ रही हैं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर