पलामू, जागरण संवाददाता। चोटहांसा गांव स्थित ग्रामीण हाट से जूता-चप्पल बेच कर वापस लौट रहे पिता-पुत्र को बदमाशों ने गोली मार दी। साथ ही तीन हजार लूटकर फरार हो गए। बताया जाता कि पिता-पुत्र ने लूट का विरोध किया था। पुलिस ने तीन लोगों को शक के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। वहीं घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

यह घटना शुक्रवार देर शाम साढ़े सात बजे बहेरा गांव की सीमा क्षेत्र की बताई जा रही है। जानकारी के अनुसार कालीचरण प्रसाद अपने पुत्र जसवंत प्रसाद के जूता-चप्पल और अन्य सामान बेचकर चोटहांसा गांव से अपने घर सलतुआ गांव वापस लौट रहे थे। इसी क्रम में जयनगरा गांव की सीमा क्षेत्र से सटे बहेरा गांव में एक मोटरसाइकिल से तीन की संख्या में पहुंचे लुटेरों ने पहले ओवरटेक किया। फिर सामने से पिस्टल तान दी।

एक बाइक पर सवार होकर आए थे बदमाश

डर के मारे बाइक सवार पिता-पुत्र रूक गए। इसके बाद अपराधियों ने कहा कि पास में जो रुपये हैं निकालो। रुपये लेने के बाद मोबाइल फोन लेने लगे तो पिता-पुत्र अपराधियों से भिड़ गए। विरोध करने पर अपराधियों ने यसवंत को गोली मार दी। गोली उसके बाएं हाथ में लगी है। अपराधियों ने कालीचरण का मोबाइल लेने के बाद भाग निकले।

शक के आधार पर तीन को लिया गया है हिरासत में

अपराधियों के जाने के बाद पिता-पुत्र ने शोर मचाया। स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे। चैनपुर थाना की पुलिस को सूचना दी गई। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और घायल यशवंत को मेदिनीनगर मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल में भर्ती कराया है। बाद में घायल को रिम्स रांची रेफर कर दिया गया।

इस बाबत चैनपुर के थाना प्रभारी उदय कुमार गुप्ता ने बताया कि अपराधियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है। संदेह के आधार पर तीन को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

Edited By: Mritunjay Pathak

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट