पलामू में लीड

गढ़वा में पेज पांच पर बाटम

लीड-------- सिडिकेट की 64वीं बैठक में लिए गए कई फैसले शोध पीठ स्थापित करने की मंजूरी

फोटो : 27 डालपी 11

कैप्शन : मेदिनीनगर स्थित जेएस कालेज में एनपीयू सिडिकेट की आयोजित बैठक में मौजूद बायें कुलपति डा रामलखन सिंह। संवाद सहयोगी मेदिनीनगर (पलामू) : मंगलवार को जनता शिवरात्रि महाविद्यालय में नीलांबर-पीतांबर विश्व विद्यालय सिंडिकेट की 64वीं बैठक आयोजित की गई। इसकी अध्यक्षता विश्वविद्यालय के कुलपति डा रामलखन सिंह व संचालन कुलसचिव डा राकेश कुमार ने किया। इस बीच सिडिकेट की गत 25 जनवरी को संपन्न बैठक में लिए गए निर्णयों की संपष्टि की गई। बैठक अमर शहीद स्वतंत्रता सेनानी नीलांबर व पीतांबर के नाम पर शोध पीठ स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। अब शोध पीठ में दोनों अमर सेनानियों के जीवन, शौर्य व बलिदान के बारे में शोध किया जाएगा। इसी तरह एनपीयू के अंतर्गत स्नातक स्तर पर सत्र 2021-24 से एनसीसी स्टडी को सीबीसीएस सिलेबस के अनुसार लागू करने पर भी सहमति बनी।

इसी तरह 15 मार्च और 16 जुलाई संपन्न संबद्धता समिति की बैठक, 14 जुलाई को संपन्न वेतन निर्धारण समिति की की बैठक, 30 जनवरी, 10 मार्च और 13 जुलाई को संपन्न परीक्षा समिति की बैठक, 20 जुलाई को संपन्न स्क्रीनिग समिति की बैठक में लिए गए निर्णयों को भी संपुष्टि प्रदान की गई है। सहायक कुल सचिव की नियुक्ति की स्वीकृति प्रदान की गई। सिडिकेट के नए सदस्य चंद्रशेखर दुबे का अधिकारियों ने स्वागत किया। धन्यवाद ज्ञापन कुलानुशासक डा केसी झा ने किया। बैठक में प्रति कुलपति डा दीप नारायण यादव, कुलसचिव डा राकेश कुमार, डा सरिता कुमारी, जीएलए कालेज के प्राचार्य डा आईजे खलखो, जेएस कालेज के प्राचार्य डा आरपी सिंह, परीक्षा नियंत्रक डा सुरेंद्र कुमार पांडेय आदि मौजूद थे।

Edited By: Jagran