लीड ---------

आयुक्त ने 30 जून तक जांच पूरी करने को कहा, 436 शिक्षकों का है मामला

संवाद सहयोगी, मेदिनीनगर (पलामू) : प्रमंडलीय आयुक्त जटाशंकर चौधरी ने 30 जून तक पलामू जिले के नौडीहा व छतरपुर प्रखंड के 436 पारा शिक्षकों के चयन की वैधता की जांच रिपोर्ट तलब की है। आयुक्त बुधवार को चयन प्रक्रिया की वैधता की जांच इससे संबंधित अन्य बिदुओं की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में उप विकास आयुक्त की अध्यक्षता वाली जांच समिति द्वारा चयन प्रक्रिया को अवैध बताए जाने से संबंधित रिपोर्ट की समीक्षा की गई। इसमें आयुक्त ने कहा कि चयन हेतु प्रकाशित विज्ञापन, विद्यालय के लिए स्वीकृत पारा शिक्षक के पद के विरुद्ध चयन प्रक्रिया, निर्धारित अहर्ता व चयन के समय झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा निर्गत आदेश को सक्रियता के साथ ध्यान में रखना सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंने ग्राम शिक्षा समिति के पारा शिक्षक से संबंधित चयन हेतु आम सभा की कार्यवाही का भी अवलोकन कर जानकारी देने, प्रखंड शिक्षा समिति की बैठक की कार्यवाही व ग्राम शिक्षा समिति द्वारा चयन हेतु की गई अनुशंसा के अनुमोदन के बाद प्रखंड शिक्षा समिति की कार्यवाही का अवलोकन भी करने का निर्देश दिया है। कहा कि प्रखंड शिक्षा समिति के निर्णय के संसूचन सक्षम प्राधिकार के द्वारा किया गया है अथवा नहीं इसे भी समिति के संज्ञान लाया जाना चाहिए। उन्होंने चयन के बाद जिला परियोजना कार्यालय को प्रखंड शिक्षा समिति के निर्णय के आलोक में प्रशिक्षण व मानदेय भुगतान हेतु प्रेषित सूची का भी अवलोकन करने का निदेश दिया है। आयुक्त ने कहा कि विद्यालयों में पारा शिक्षकों के स्वीकृत पद के विरूद्ध कितने कार्यरत इसकी विवरणी भी तैयार किया जाएगा। इसके अलावा शिक्षण कार्य छोड़ देने, सेवानिवृत्त होने व मृत्यु पारा शिक्षकों की विवरणी भी तैयार करने का निदेश दिया। बैठक में आयुक्त के सचिव मतियस विजय टोप्पो, पलामू के उप विकास आयुक्त शेखर जमुआर, क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक शिव नारायण साहू, जिला शिक्षा पदाधिकारी उपेंद्र नारायण, जिला शिक्षा अधीक्षक मारिया गोरिया तिर्की, आयुक्त के पीए जयंत कुमार, एपीओ अशोक कुमार रजक, एडीपीओ उदय कुमार सिंह सहित कई अधिकारी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran