संवाद सूत्र, हुसैनाबाद : हुसैनाबाद विधानसभा चुनाव में बसपा प्रत्याशी शेर अली के पक्ष में उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री सह बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने बुधवार को चुनावी सभा को संबोधित किया। कहा कि केंद्र व राज्य में भ्रष्टाचारियों का बोल बाला रहा है। यहां के गरीब गुरबों को लोगों ने लूटने का काम किया है। कहा कि झारखंड अलग नहीं हुआ था तो यहां के गरीब आदिवासी व अल्पसंख्यकों को काफी छला गया। अलग झारखंड राज्य बनने के बाद यहां के लोगों की आस जगी थी कि अब उनका विकास होगा। बावजूद विकास के बदले यहां के सत्ताधारियों ने उन्हें लूटकर अपना विकास किया। यहां एक गरीब का काम बिना रिश्वत के नहीं होता। कई गिने चुने पूंजीपति अपना वर्चस्व बनाकर सरकार संचालित करना चाह रहे हैं। उन लोगों की तमन्ना यहां की जनता पूरी नहीं होने देगी।

राज्य में बसपा की सरकार बनी तो गरीबों को पक्का मकान के अलावे खेती के लिए सिचाई की व्यवस्था करेगी। इस देश में हर जाति के लोग गरीब हैं। इनके हक लूटने व देश को विकसित बनाने के नाम पर गिरवी रखने का षड़यंत्र पूरा नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय के माध्यम से बेहतर सरकार देने का आह्वान किया। कहा कि केंद्र सरकार आरक्षण को मंदगति से खत्म करने का प्रयास कर रही है। इससे भारत की गरीब जनता पूरा नहीं होने देगी। विधानसभा में दादागीरी खत्म करने के लिए बसपा प्रत्याशी शेर अली अपना प्रतिनिधि बनाने का आह्वान किया। बसपा प्रत्याशी शेर अली ने कहा कि हुसैनाबाद के लोगों का स्नेह प्यार से वे चुनाव मैदान में है। सबका काफी सहयोग प्राप्त है। उन्होंने कहा कि चौक चौराहों पर दारू मुर्गा व पैसा के बल पर भीड़ जुटाने से जनता नही रिझेगी। कमांडों ने पूरे मंच को घेर रखा था। सभा में भीड़ उमड़ पड़ी थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस