मेदिनीनगर : जिले के सर्वाधिक उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र के रूप में चिह्नित मनातू प्रखंड मुख्यालय में डिग्री कॉलेज खोले जाने की अंतिम बाधा को दूर कर लिया है। इसके लिए जिला प्रशासन ने इसके लिए पांच एकड़ भूमि का चयन कर उच्च शिक्षा विभाग को अग्रेतर कार्रवाई के लिए अग्रसारित कर दिया है। वहीं, विश्रामपुर में कालेज खोलने के लिए जमीन तलाश करने की प्रक्रिया अपने अंतिम चरण में है। यह जानकारी जिले के उपायुक्त डॉ. शांतनु कुमार अग्रहरि ने दी है। वे मंगलवार को अपने कार्यालय वेश्म में नियमित मासिक प्रेस वार्ता में संवाददाताओं से बात कर रहे थे। कहा कि वर्तमान में पेयजलापूर्ति व शिक्षा जिला प्रशासन की प्राथमिकता सूची में है। इसमें हर बाधाओं को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। बताया कि पलामू मेडिकल कालेज में 300 बेड क्षमता वाले अस्पताल का निर्माण किया जाना है। इसके लिए 12.5 एकड़ जंगल झाड़ी जमीन को वन विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र निर्गत कर दिया गया है। इसी तरह छतरपुर व पांकी में विद्युत सब स्टेशन के लिए जमीन की तलाश कर ली गई है। डीसी ने जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना के प्रगति को साझा किया है। बताया कि विगत तीन वित्तीय वर्षों में 57 हजार आवास निर्माण के लक्ष्य के विरूद्ध 44 हजार आवास निर्माण का कार्य पूरा करा लिया गया है। शेष आवास का निर्माण आगामी नवंबर माह तक पूरा कर लिया जाएगा। चालू वित्तीय वर्ष में जिले के लिए 29 हजार नए आवास निर्माण का लक्ष्य निर्धारित किए गए है, इसमें एक सप्ताह के अंदर में लाभुकों के निबंधन के बाद प्रथम किश्त की राशि उनके खाते में हस्तांतरित कर दिए जाएंगे। डीसी ने बताया कि सीएसआर गतिविधियों के तहत हिडाल्को द्वारा पंडवा प्रखंड के पांच व ग्रासिम इंडस्ट्रीज द्वारा विश्रामपुर प्रखंड के चार आंगनबाड़ी केंद्रों को माडल केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है। बताया कि जनता दरबार में आए समस्याओं को अब सीधे मुख्यमंत्री जनसंवाद के पोर्टल पर अपलोड किया जा रहा है। इससे संबंधित विभाग से समस्या के समाधान करने में आसानी होगी।

----------

बाक्स :

नक्सल प्रभावित क्षेत्र के बच्चे साहित्य समाज पुस्तकालय में करेंगे भ्रमण

संवाद सहयोगी, मेदिनीनगर : जिले के 114 नक्सल प्रभावित क्षेत्र के बच्चों को जिला मुख्यालय स्थित साहित्य समाज पुस्तकालय में भ्रमण कराया जाएगा। यह जानकारी डीसी डा. शांतनु ने दी है। मंगलवार को संवाददाताओं से बातचीत के क्रम में डीसी ने बताया कि प्रत्येक सप्ताह एक गांव के बच्चों को प्रशासनिक स्तर से बस के माध्यम से पुस्तकालय भेजा जाएगा। इससे बच्चों के अंदर ना सिर्फ सीखने की लालसा उत्पन्न होगी, बल्कि एक बेहतर वातावरण का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए सीएसआर व अन्य राशि से पुस्तकालय को विकसित कराया जा रहा है। बाक्स :

18 जून तक मुख्यमंत्री आर्शीवाद योजना से जोड़े जाएंगे लाभुक किसान

संवाद सहयोगी, मेदिनीनगर : जिले के किसानों को आगामी 18 जून तक प्रधानमंत्री सम्मान निधि व मुख्यमंत्री आशीर्वाद योजना से जोड़ दिया जाएगा। डीसी ने बताया कि जिले के सभी 4.62 लाख किसानों को इन योजनाओं से जोड़ा जाना है। इसमें अभी तक 70 हजार किसानों को जोड़ा जा चुका है। इसके लिए फार्म ए,बी व सी के सत्यापन के बाद फार्म डी भरना शुरू कर दिया गया है। पूछे जाने पर बताया कि निर्धारित तिथि के बाद भी अगर कोई किसान इससे वंचित रह जाते हैं तो वे जिला कृषि अधिकारी या उपायुक्त से मिलकर अपना आवेदन दे सकते है। डीसी ने रेन वाटर हार्वेस्टिग सिस्टम को ओर अधिक सु²ढ़ करने का भरोसा दिलाया। कहा कि जिला प्रशासन स्वयं सहायता समूह के माध्यम से महिलाओं के सशक्तिकरण की दिशा में ठोस कार्य कर रही है। मौके पर प्रभारी डीपीआरओ सुधीर कुमार व एपीआरओ विजय कुमार ठाकुर उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप