Move to Jagran APP

Gangster Aman Saw: कुख्यात गैंगस्टर अमन साव को गिरिडीह किया गया शिफ्ट, लॉरेंस बिश्नोई तक से जुड़ चुके हैं तार

झारखंड के कुख्यात गैंगस्टर अमन साव को मेदिनीनगर सेंट्रल जेल से गिरिडीह की जेल में शिफ्ट कर दिया गया है। अमन साव पिछले एक साल से मेदिनीनगर सेंट्रल जेल में बंद था। गुरुवार को उसे गिरिडीह शिफ्ट कर दिया गया है। यह दूसरा बार है जब उसे मेदिनीनगर सेंट्रल जेल से गिरिडीह भेजा गया है। उसके तार लॉरेंस बिश्नोई से भी जुड़ चुके हैं।

By Mohit Tripathi Edited By: Mohit Tripathi Thu, 20 Jun 2024 02:17 PM (IST)
गैंगस्टर अमन साव को गिरिडीह किया गया शिफ्ट। (फाइल फोटो)

जागरण संवाददाता, मेदिनीनगर (पलामू)। झारखंड के कुख्यात डॉन अमन साव को मेदिनीनगर केंद्रीय कारा से गिरिडीह शिफ्ट किया गया है। अमन साव बीते एक वर्ष से मेदिनीनगर केंद्रीय कारा में बंद था। गुरुवार को उसको मेदिनीनगर केंद्रीय कारा से गिरिडीह शिफ्ट किया गया है। यह दूसरा बार है, जब अमन साव को मेदिनीनगर केंद्रीय कारा से गिरिडीह भेजा गया है।

कारा अधीक्षक पर धमकी देने का लगा था आरोप 

अमन साव पर दो साल पहले मेदिनीनगर केंद्रीय कारा के अधीक्षक को धमकी देने का आरोप लगा था। उस घटना के बाद अमन साव को मेदिनीनगर केंद्रीय कारा से ट्रांसफर किया गया था। मेदिनीनगर केंद्रीय कारा के जेलर प्रमोद कुमार ने अमन साव को गिरिडीह जेल ट्रांसफर करने की पुष्टि की है। 

पलामू में तीन से अधिक मामले दर्ज 

पलामू जिले में अमन साव पर तीन से अधिक एफआईआर दर्ज हैं। इसमें सोननगर से पतरातु तीसरी लाइन बना रही कंस्ट्रक्शन कंपनी से रंगदारी मांगने और सेंट्रल जेल के सुपरिटेंडेंट को धमकी देने का मामला शामिल हैं।

दो दिन पहले झारखंड के विभिन्न इलाकों में नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने अमन साव से जुड़े कई ठिकानों पर छापेमारी की थी।

लॉरेंस बिश्नोई गैंग से अमन साव का संबंध

लॉरेंस बिश्नोई गैंग से अमन साव का संबंध है। अमन साव के गुर्गे मलेशिया समेत देश के कई राज्यो में सक्रिय हैं। अमन साव पर झारखंड के विभिन्न इलाकों में 100 से भी अधिक एफआईआर दर्ज है।

यह भी पढ़ें: झारखंड भाजपा कार्यालय पर आवास बोर्ड की टेढ़ी नजर, अभी थमाया नोटिस; जल्द ले सकता है बड़ा एक्शन

Sita Soren की हार पर भाजपा में रार! देवघर MLA से मारपीट, Amit Shah व JP Nadda को करना पड़ा हस्तक्षेप