मेदिनीनगर (पलामू), जासं। राज्य में डिजिटल डकैतों की सरकार चल रही है। यहां जंगल, जमीन और खनिज संपदाओं पर बाहरी लोगों का कब्जा है। पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ से आकर मुख्यमंत्री बने रघुवर दास राज्य को बाहरी लोगों के लिए चारागाह बनाना चाहते हैं। ये बातें झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के कार्यकारी अध्यक्ष व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने कही। वे शनिवार को पलामू जिला मुख्यालय मेदिनीनगर के शिवाजी मैदान में झामुमो की 'बदलाव यात्रा' को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

हेमंत सोरेन ने रघुवर सरकार के पांच सालों के कार्यकाल पर जमकर तंज कसा। कहा कि रघुवर सरकार के कार्यकाल में लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। ऐसी सरकार को उखाड़ फेंकना है। कहा कि सीएनटी-एसपीटी एक्ट, वन अधिकार अधिनियम, दोहरी नियोजन नीति समेत कई जनविरोधी नीतियां लाकर जनता को परेशान किया गया है।

बाहरी लोगों को यहां नौकरी दी जा रही है और स्थानीय युवाओं को बेरोजगारी के दलदल के धकेल दिया गया है। झारखंड का हाल यह है कि टाटा जैसी बड़ी कंपनी बंद होने के कगार पर है। हेमंत ने कहा कि भाजपा चुनाव जीतने के लिए किसी भी हद तक जा सकती हैं। वैसे लोगों के षडयंत्र को समझना होगा। चुनाव में ऐसे लोगों को सबक सिखाने का समय आ गया है।

पूर्व मंत्री दुलाल भुइयां ने कहा कि रघुवर सरकार जनविरोधी नीतियां अपना रही है। विधानसभा चुनाव में आम जनता भाजपा को सबक दिखाएगी। कहा कि हेमंत सोरेन से ही राज्य का कल्याण संभव है। झामुमो के केंद्रीय महासचिव मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि रघुवर सरकार झूठ की राजनीति कर रही है। मौके पर पलामू जिला महासचिव मनव्वर जमां खां, मनोज पांडेय, ङ्क्षपटू सिन्हा समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

कई लोगों ने सदस्यता ग्रहण की

झामुमो की बदलाव यात्रा में अद्दि कुडुख सरना समाज के अध्यक्ष मिथिलेश उरांव के नेतृत्व में बड़ी संख्या में लोगों ने झामुमो की सदस्यता ग्रहण की। इसके अलावा सच्चिदानंद पाठक व मनोज पहाडिय़ा आदि ने भी दामन थामा। हेमंत सोरेन ने माला पहनाकर सभी का स्वागत किया।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस