मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पाकुड़ : पुलिस ने अंतरराज्यीय सटोरिया गिरोह का खुलासा किया है। इसमें गिरोह के सरगना नुरुल हसन व पाकुड़ प्रखंड कार्यालय में पदस्थापित सहायक अभियंता श्यामदत्त शुक्ला को गिरफ्तार किया है। शहर के मुस्कान होटल में खेल चल रहा था। यहां आठ अप्रैल को सट्टा का 50 लाख रुपये आनेवाला था। नुरुल मुस्कान होटल के मालिक महबुल का बेटा है। होटल स्थित नुरुल के कार्यालय और श्यामदत्त शुक्ला के घर से सट्टेबाजी से संबंधित कई सामान जब्त किया है। पूछताछ के बाद दोनों को सोमवार को जेल भेज दिया। इसमें शहर के 7-8 लड़कों का नाम आया है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

पुलिस अधीक्षक सुनील भास्कर ने सोमवार को नगर थाना में बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि होटल मुस्कान में सट्टेबाजी का खेल चल रहा है। छापेमारी के लिए विशेष टीम बनाई गई। टीम ने होटल मुस्कान में छापेमारी कर नुरुल हसन को गिरफ्तार कर लिया। उसके कार्यालय से कंप्यूटर सेट, सीडी, काला रंग का दो डीबीआर, मोबाइल, कंप्यूटर का आइपीएल सट्टेबाजी से संबंधित स्क्रीन शॉट, रुपये गिनने का मशीन बरामद किया है। नुरुल की निशानदेही पर पुलिस टीम ने सहायक अभियंता श्यामदत्त शुक्ला को गिरफ्तार कर लिया। उसके घर से भी कंप्यूटर का सीपीयू, मोबाइल व दो सीम बरामद किया है। एसपी ने बताया कि दोनों काफी दिनों से आइपीएल व अन्य खेलों में सट्टा लगाते थे। कंप्यूटर से जुड़ी जानकारी का स्क्रीन शॉट खंगालने पर पुष्टि हुई कि नुरुल हसन अंतरराज्यीय गिरोह का सरगना है। शहर के कई लड़के इससे जुड़े हैं। सारा कारोबार इंटरनेट व वाट्सएप के माध्यम से आइडी पासवर्ड से बेवसाइट द्वारा किया जा रहा था। छापेमारी दल में एसआइ दिनेश प्रसाद चौरसिया, एसआइ उमाशंकर सिंह, विजय चंद्र चौधरी, सुरेश प्रसाद, योगेश प्रसाद यादव आदि थे। मौके पर एसडीपीओ अशोक कुमार सिंह, पुलिस निरीक्षक रामचंद्र सिंह मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप