-उद्योग विभाग के सचिव ने बांस उद्योग खोलने के लिए स्थल का किया निरीक्षण -बांस उद्योग से जोड़ने के लिए महिलाओं को दिया जाएगा प्रशिक्षण

संवाद सूत्र, लिट्टीपाड़ा (पाकुड़) : बांस उद्योग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से उद्योग विभाग के सचिव रवि कुमार रविवार को लिट्टीपाड़ा प्रखंड मुख्यालय पहुंचे। जहां उद्योग लगाने के लिए स्थल का निरीक्षण किया।

इस दौरान उद्योग सचिव ने कहा कि संतालपरगना पहाड़ी क्षेत्र में बांस बहुत अधिक मात्रा पाए जाते हैं। बिना किसी खर्च के इसका उत्पादन होता है। पाकुड़ जिले के लिट्टीपाड़ा व अमड़ापाड़ा प्रखंड में बांस की अच्छी प्रजाति पाई जाती है। सरकार उत्तम गुणवत्ता वाले बांस का उपयोग कर बड़े पैमाने पर महिलाओं को रोजगार से जोड़ने का प्रयास कर रही है। बांस से बनने वाली अगरबती की छड़ी, टोकरी, कुर्सी, टेबुल के निर्माण के लिए बेरोजगार महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। लिटीपाड़ा प्रखंड के तीन स्थानों पर बांस उद्योग केंद्र खोला जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रखंड परिसर स्थित एक भवन में बांस उद्योग केंद्र की स्थापना की जाएगी। इसी तरह बड़ा घघरी पंचायत भवन में उद्योग केंद्र की स्थापना होगी। तीसरा उद्योग केंद्र की तलाश हो रही है। बांस से बनी सामग्री को बेचने के लिए सरकार बाजार भी उपलब्ध कराएगी। इसकी मांग विदेशों में भी है। उन्होंने बीडीओ को क्षेत्र में बांस उद्योग को बढ़ावा देने के लिए महिलाओं को प्रोत्साहित करने का निर्देश दिया। महिलाएं बांस की छड़ी बनाकर अच्छी आय कर सकती है। इससे उसका परिवार का भरण-पोषण आसानी से होगा। सरकार चाहती है कि महिलाएं सभी क्षेत्र में आगे बढ़े और सशक्त, सबल बनें।

इस दौरान सचिव के साथ डीडीसी रामनिवास यादव, आइटीडीए निदेशक कुमार ताराचंद, बीडीओ सत्यवीर रजक साथ रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप