संवाद सहयोगी, पाकुड़: समावेशी शिक्षा के अंतर्गत स्थानीय रानी ज्योतिर्मय स्टेडियम में सोमवार को बाल सह कस्तूरबा समागम का आयोजन किया गया। इसका उद्घाटन डीडीसी राम निवास यादव व जिला शिक्षा पदाधिकारी रजनी देवी ने संयुक्त से दीप प्रज्वलित कर किया। इस मौके पर बच्चों की कई प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम के दौरान डीडीसी ने कहा कि बच्चों के मानसिक, शारीरिक व बौद्धिक विकास के प्रदर्शन का एक सशक्त माध्यम बाल मेला है। बच्चों के बीच आयोजित खेलकूद प्रतियोगिता से जहां एक स्वच्छ व स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की शुरूआत होती है। वहीं, बच्चों की छिपी प्रतिभा भी उभर कर सामने आती है। जिला स्तर पर चयनित प्रतिभागी रांची में राज्य स्तर पर होने वाली प्रतियोगिता में भाग लेंगे। डीडीसी ने कहा कि जिले के 59 विद्यालयों में डिजिटल क्लास रूम खोला जाएगा। उक्त क्लास में बच्चों को आधुनिक तरीके से शिक्षा शिक्षा दी जाएगी। जिन विद्यालयों में विषयवार शिक्षक नहीं हैं, वैसे विद्यालयों में डिजिटल क्लास के माध्यम से बच्चों को पढ़ाया जाएगा। शिक्षकों की कमियों को पूरा किया जाएगा। खेलकूद प्रतियोगिता की समाप्ति के बाद डीडीसी व डीइओ ने प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतियोगिता के विजेताओं को ट्रॉफी व मेडल देकर सम्मानित किया। इस मौके पर एडीपीओ जयेंद्र मिश्रा, उज्जवल ओझा, इप्सिता तिर्की, एमलिन सुरीन, मुकेश कुमार, सभी बीईईओ व बीपीओ, विश्वनाथ पंडित आदि मौजूद थे।

-----------------------------------------------------------------

छात्र ने बनाई सौर ऊर्जा संचालित साईकिल फोटो नंबर 28पीकेआर 18 में - सूरज को नेशनल स्तर पर इंस्पायर आवार्ड से किया जाएगा सम्मानित पाकुड़ : स्थानीय रानी ज्योतिर्मय स्टेडियम में आयोजित जिला स्तरीय बाल समागम में सोमवार को विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इसमें जिले के सभी कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की छात्राएं, राज प्लस टू, उत्क्रमित उच्च विद्यालय कारियोडिह सहित अन्य स्कूलों के छात्र-छात्राओं ने अपने स्टॉल लगाए। इसमें कस्तूरबा की छात्राओं ने जैविक विधि से खेती करने लिए बढ़ावा दिया तो उत्क्रमित उच्च विद्यालय कारियोडिह लिट्टीपाड़ा के छात्र सूरज कुमार साहा ने सौर ऊर्जा से चलने वाले साईकिल का प्रदर्शन किया। डीडीसी ने सौर ऊर्जा से संचालित साईकिल को चलाकर परखा। इस मौके पर डीडीसी ने कहा कि सौर ऊर्जा से संचालित साईकिल बनाने वाले छात्र सूरज का केंद्रीय स्तर पर इंस्पायर आवार्ड के लिए चयन हुआ है। गरीब भी यह साईकिल खरीद सकते है। इसके उपरांत डीडीसी ने विज्ञान प्रदर्शनी का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान डीडीसी ने कस्तूरबा की छात्राओं से प्रदर्शनी से संबंधित सवाल पूछे। विज्ञान प्रदर्शनी में सौर ऊर्जा संचालित साईकिल बनाने वाले छात्र सूरज ने प्रथम स्थान हासिल किया।

---------------------------------------------------------------

इन प्रतियोगिताओं का हुआ आयोजन पाकुड़ : जिला स्तरीय बाल समागम में दिव्यांग बच्चों का 50 व 100 मीटर दौड़, चम्मच रेस, बोरा रेस, म्यूजिकल चेयर रेस तथा चित्रांकन प्रतियोगिता हुआ। जबकि प्राथमिक, मध्य तथा प्लस टू के छात्र-छात्राओं के लिए निबंध, चित्रांकन, लेखन प्रतियोगिता के अलावा राष्ट्रीय भावना समूह गीत, वाद विवाद, आत्मरक्षा प्रदर्शनी एवं समूह नृत्य राष्ट्रीय भावना लोक संस्कृति आदि प्रतियोगिता आयोजित किया गया। इसमें जिले के विभिन्न विद्यालयों के प्रखंड स्तर पर चयनित प्रतिभागियों ने भाग लिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप