संवाद सूत्र, महेशपुर (पाकुड़) : मानसून अवधि में नदी से बालू उठाव की दैनिक जागरण में खबर प्रकाशित होने के बाद रविवार को खनन विभाग ने नदी से अवैध तरीके से बालू का उठाव कर रहे बालू माफिया के खिलाफ कार्रवाई की है। खनन विभाग की कार्रवाई में महेशपुर के जगदीशपुर घाट से बालू लदे 10 ट्रैक्टरों को जब्त किया है। खनन विभाग की कार्रवाई के दौरान दर्जनों वाहन भागने में सफल हो गए।

रविवार को दिन के 12 बजे के करीब जिला खनन पदाधिकारी उत्तम कुमार विश्वास, सहायक खनन पदाधिकारी सुरेश शर्मा, महेशपुर के अंचलाधिकारी विनोद प्रजापति पुलिस बल के साथ बांसलोई नदी के जगदीशपुर घाट पहुंचे। इस दौरान यहां नदी बालू का उठाव कर रहे दस ट्रैक्टर को जब्त किया गया। सभी ट्रैक्टर चालक वाहन छोड़कर भाग निकले। जबकि बालू लदा एक ट्रैक्टर ग्वालपाड़ा स्थित मंदिर के समीप से जप्त किया गया। कार्रवाई में जब्त सभी ट्रैक्टर को महेशपुर थाना में रखा गया है। इस संबंध में खनन विभाग ने सभी वाहन मालिक व चालक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। विदित हो कि पिछले तीन दिनों से महेशपुर व अमड़ापाड़ा के बालू घाटों में बड़े पैमाने पर बालू का अवैध उठाव किया जा रहा था। जबकि पर्यावरण मंत्रालय द्वारा मानसून अवधि में नदियों से बालू का उठाव वर्जित है।

दरअसल पिछले सप्ताह उपायुक्त के निर्देश पर एसडीओ जीतेंद्र कुमार देव ने खनन व पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर पुलिस को बालू गाड़ी की जांच से अलग कर दिया था। प्रशासन के इस आदेश को अपने हित में पाकर बालू माफिया ने नदियों से बड़े पैमाने पर बालू का उठाव शुरू कर दिया था। कोट

उपायुक्त के निर्देश पर नदियों से बालू उठाव करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। मानसून अवधि में 15 अक्टूबर तक नदियों से बालू उठाव पर प्रतिबंध है।

सुरेश शर्मा, सहायक खनन पदाधिकारी, पाकुड़

Posted By: Jagran