संवाद सूत्र, महेशपुर (पाकुड़) : थाना क्षेत्र के बाबूदाहा पंचायत के लौगांव में दो पक्षों के बीच चल रही जमीन विवाद को सुलझाने के लिए ग्राम प्रधान श्रीनाथ मुर्मू ने मंगलवार को प्राथमिक विद्यालय लौगांव में बैठक बुलाई थी। इसकी भनक पुलिस को लगी। पुलिस प्रशासन ने मोड़े मांझी की संभावना पर गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया। पुलिस प्रथम पक्ष के गायना हांसदा व द्वितीय पक्ष के शिवजनत मुर्मू व ग्राम प्रधान को हिरासत में लेकर थाना चली आई। थाना में देर शाम तक दोनों पक्षों के बीच वार्ता हुई। बात नहीं बनने पर पुन: बैठक बुलाने का निर्णय लिया गया।

बताते चलें कि लौगांव निवासी गायना हांसदा व शिवजतन मुर्मू के बीच वर्षो से जमीन विवाद चल रहा था। दोनों के बीच जमाबंदी नंबर 13 में 34 बीघा जमीन का विवाद है। दोनों पक्ष दावा कर रहे हैं कि जमीन पर उनका भी हक है। हालांकि यह मामला न्यायालय नहीं पहुंचा है। जमीन विवाद को देखते हुए ग्राम प्रधान ने गायना हांसदा व शिवजतन मुर्मू को नोटिस जारी कर कहा कि जमीन विवाद का निपटारा के लिए मंगलवार को दोनों पक्षों के सभी परिजनों प्राथमिक विद्यालय लौगांव पहुंचे। प्रधान ने नोटिस में कहा कि दोनों पक्षों के बीच बैठक कर विवाद को सुलझाया जाएगा।

प्रथम पक्ष के गायना को लगा कि उनके खिलाफ मोड़े मांझी होने वाला है। इसलिए वह बैठक में शामिल नहीं होकर सीधे थाना पहुंच गए। गायना ने थाना प्रभारी को मोड़े मांझे होने की संभावना से अवगत कराया। मोड़े मांझी की संभावना को देखते हुए पुलिस हरकत में आई। महेशपुर सहित अमड़ापाड़ा, लिट्टीपाड़ा, पाकुड़िया व रदीपुर की पुलिस गांव पहुंची और कमान संभाल लिया। पुलिस ने गांव में बैठक करने से मना किया। पुलिस दोनों पक्षों को अपने साथ लेकर थाना पहुंची। थाना में दोनों पक्षों के बीच काफी देर तक वार्ता चली लेकिन कोई निष्कर्ष नहीं निकला। थाना में बातचीत के दौरान पुलिस पदाधिकारियों के अलावा वरीय ग्राम प्रधान कमलाकांत मुर्मू, अंचल निरीक्षक व राजस्व कर्मचारी शामिल थे। पुलिस निरीक्षक रामेश्वर प्रसाद ने कहा कि जमीन विवाद मामले को लेकर गांव में किसी प्रकार की बैठक नहीं होगी। इससे विवाद होने की संभावना बनी रहती है।

गांव में महेशपुर थाना प्रभारी उमेश चंद्र प्रसाद, पुअनि खुद्दी कुजूर, देवानंद कुमार, सअनि लल्लू राम, सुरेश उरांव, अरुण दूबे, अमड़ापाड़ा थाना प्रभारी सह पुलिस निरीक्षक राम चंद्र राम, लिट्टीपाड़ा थाना के पुअनि राजेंद्र मिश्रा, पाकुड़िया थाना प्रभारी धनपति लोहरा, रद्दीपुर ओपी सअनि बिरसा टूटी के अलावा काफी संख्या में पुलिस जवान तैनात थे।

Posted By: Jagran