संवाद सहयोगी, पाकुड़ : प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश ओमप्रकाश पांडेय ने व्यवहार न्यायालय परिसर स्थित अपने कार्यालय कक्ष में शनिवार को जिले के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में डीसी कुलदीप चौधरी, एसडीओ प्रभात कुमार सहित जिले के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों ने भाग लिया। इसमें झालसा रांची के निर्देशानुसार फरवरी 2020 के अवकाश के दिन में विधिक सशक्तिकरण शिविर का आयोजन को लेकर कई महत्वपूर्ण बिदुओं पर चर्चा की गई। इस मौके पर प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने डीसी, सभी बीडीओ व सीओ तथा संबंधित पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि जिला विधिक सेवा प्राधिकार की ओर से 23 फरवरी को सभी प्रखंडों में आयोजित होने वाले विधिक सशक्तिकरण शिविर को सफल बनाने में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि विधिक सशक्तिकरण शिविर को सफल बनाने के लिए हर संभव कदम उठाते हुए कार्यक्रम को सफल करना है। सभी प्रखंड के समस्त पदाधिकारियों के साथ बैठक कर गरीब बच्चे, मजदूर, वयोवृद्ध लोग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, महिलाएं, विधवा महिलाएं लोगों को चिन्हित करते हुए उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान करवाना है

प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने कहा कि जिला प्रशासन के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग कल्याण विभाग, शिक्षा, कृषि, श्रम विभाग सहित झारखंड स्टेट लाइवलीहुड प्रमोशन सोसाइटी महिलाओं व बच्चों से संबंधित विभाग मिलकर विधिक सशक्तिकरण शिविर को सफल करें। विधिक सशक्तिकरण शिविर का आयोजन 23 फरवरी 2020 को 11 बजे से सभी प्रखंड कार्यालय परिसर में आरंभ की जाएगी। बैठक में जिला विधिक सेवा प्राधिकार सचिव सुनील दत्त द्विवेदी, अनुमंडल पदाधिकारी प्रभात कुमार, मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, न्यायिक पदाधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस