संसू, लिट्टीपाड़ा (पाकुड़) : अनुमंडल पदाधिकारी जीतेंद्र कुमार देव व बीडीओ सत्यवीर रजक मंगलवार को गोहांडा निवासी बीर ¨सह बास्की के घर पहुंचे। अधिकारियों ने बीर ¨सह व उनके परिवार का हाल जाना। सड़क हादसे के शिकार बीर ¨सह को 35 किग्रा अनाज व उनके बच्चों को पौष्टिक आहार प्रशासन ने दिया।

10 अप्रैल 2018 को लिट्टीपाड़ा धर्मपुर मुख्य पथ पर घर जाने के क्रम में बीर ¨सह वाहन की चपेट में आ गया था। हादसे में उसका दाहिना पैर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया था और उसका पैर काटना पड़ा था। इस हादसे के बाद उसकी पत्नी का भी निधन हो गया है। उनकी माली हालत बहुत दयनीय है। उनके चार छोटे बच्चे हैं। बीर ¨सह व उनके बच्चों का कोई देख भाल करने वाला नहीं है। इस मौके पर बीसीओ सत्येंद्र कुमार व बीपीओ अजित कुमार टुडू भी साथ थे।

------

झामुमो नेत्री ने की मदद की पहल

बीर ¨सह की हालत की खबर जब झामुमो नेत्री मीरा प्रवीण ¨सह को मिली तो वे सोमवार को अपने सहयोगियों के साथ लिट्टीपाड़ा के गोहांडा गांव पहुंची और बीर ¨सह का हालचाल जाना। झामुमो नेत्री ने बताया कि बीर ¨सह का पूरा परिवार दाने दाने को मोहताज है। उसके बच्चे कुपोषण के शिकार हैं। पैसे के अभाव में बीर ¨सह का समुचित इलाज भी नहीं हुआ है। अधूरा इलाज छोड़कर वह घर में पड़ा है। इससे उसकी हालत बिगड़ती जा रही है। उसकी बूढ़ी मां किसी तरह बीर और उसके चार बच्चों की देखभाल कर रही है। बीर की हालत देख मीरा अपने पति प्रवीण ¨सह व अपने सहयोगियों गणेश, बिदुर, अमन नवीन, अमन ठाकुर, दीपक, गोपाल, आनंद, मंटू के साथ खाने पीने, बच्चों के लिये दूध, चाय का सामान और सफाई के पूरे सामान के साथ वीर ¨सह बासकी के घर पहुंची। उसने इस परिवार को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है।

Posted By: Jagran