जागरण संवाददाता,पाकुड़ : मुफस्सिल थाना क्षेत्र के ईलामी गांव के सिरसा टोला में शनिवार की सुबह करीब दो बजे बिजली की शार्ट सर्किट से घर में आग लग गई। इसमें झुलसकर 45 वर्षीय फरजहा उर्फ कोटा शेख और उसके बेटे 25 वर्षीय शरीफ शेख की मौके पर ही मौत हो गई। इसकी सूचना पर मुफस्सिल थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की। घटना के बाद पूरे गांव में मातम है। मृतक के स्वजन का रो रोकर बुरा हाल है।

घटना के संबंध में ईलामी मुखिया समद अली ने बताया कि दो बजे के करीब शार्ट सर्किट से निकली चिंगारी से झोपड़ी में आग लग गई। आग की उठती लपटों से घर के पीछे तरफ सो रहे दो तीन बच्चे निकल कर भागे और शोर मचाना शुरू किया। शोर सुन घर के दूसरे हिस्से में सो रहे शरीफ शेख आग बुझाने घर के छप्पर (टीना) पर चढ़ गया। छप्पर पर लगे टीना में करंट प्रवाहित होने की वजह से वह उसकी चपेट में आ गया। यह देख उसके पिता फरहजा अपने बेटे को बचाने की कोशिश करने लगा। जिससे वह भी करंट की चपेट में आ गया। देखते ही देखते दोनों आग से पूरी तरह झुलस गए और मौके पर ही दोनों की मौत हो गई। विवश स्वजन व ग्रामीण यह सारी घटना अपने आंखों से देखते रहे लेकिन करंट की वजह से कुछ कर नहीं सके। बाद में गांव के ही बिजली मिस्त्री ने करंट वाली बिजली का तार काटा। इसके बाद आग पर काबू पाया गया। तब तक सबकुछ जलकर स्वाहा हो चुका था।

इधर मुफस्सिल थाना प्रभारी मिंटू भारती मौके पर पहुंचे तथा पूरी घटना की जानकारी दी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है। फरजहा को नौ बच्चे हैं। जबकि उसका बेटा शरीफ अपने पीछे दो नन्हीं बेटी को छोड़ गया है। इस संबंध में अंचलाधिकारी आलोक वरण केसरी ने बताया कि यह दुखद घटना है। पीड़ित परिवार को खाद्यान राहत के तहत मुखिया से अनाज दिलाया गया है। प्रखंड प्रशासन से मिलने वाली सहायता मृतक के स्वजन को दी जाएगी। बिजली विभाग से भी मुआवजा का प्रावधान है। बिजली विभाग इसकी प्रक्रिया में लग गया है।

Edited By: Gautam Ojha

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट