जागरण संवाददाता, पाकुड़ : विधानसभा सत्र के दौरान भाजपा विधायक सीपी सिंह द्वारा स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के उपर अभद्र टिप्पणी किए जाने से कांग्रेसियों में रोष है। इसके विरोध में बुधवार की शाम सीपी सिंह का पुतला जलाया गया। कांग्रेसियों ने भाजपा और सीपी सिंह के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कांग्रेसियों ने स्वास्थ्य मंत्री से माफी मांगने की मांग की है। सीपी सिंह ने सत्र के दौरान स्वास्थ्य मंत्री को आटो एजेंट, चालक और पिछड़ा जाति कहकर अपमानित किया था। इससे कांग्रेसियों में उबाल देखा गया। कांग्रेसियों ने सीपी सिंह पर पिछड़ा जाति का अपमान करने का भी आरोप लगाया।

जिलाध्यक्ष उदय लखमानी ने कहा कि विधानसभा सत्र के दौरान भाजपा विधायक अपनी क्षेत्र की समस्याओं को नहीं रख भजन-कीर्तन कर रही है। राज्य की जनता भाजपा की नौटंकी को देख रही है। भाजपा के पास फिलहाल कोई मुद्दा नहीं है। जिस कारण सत्र को बाधित करना चाहती है। उन्होंने कहा कि सीपी सिंह भाजपा के वरिष्ठ विधायकों में से एक हैं। उनका बयान से कांग्रेसी काफी गुस्से में हैं। सीपी सिंह द्वारा स्वास्थ्य मंत्री के उपर अभद्र टिप्पणी किया जाना बिल्कुल गलत है। स्वास्थ्य मंत्री की छवि पूरे राज्य में साफ-सुथरी है। सीपी सिंह को तुरंत माफी मांग लेना चाहिए। प्रखंड अध्यक्ष मंसारूल हक ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करना जायज नहीं है। इस मौके पर मो. शमीम, असलम अंसारी, मुख्तार हुसैन, जोएल मुर्मू, विवेक गोस्वामी, शाहीन परवेज, श्रीकुमार सरकार, कृष्णा यादव, भगवती प्रसाद गुप्ता, कौशर आलम सहित अन्य मौजूद थे।

Edited By: Jagran