जागरण संवाददाता,पाकुड़ : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि कुछ तत्व पाकुड़ में अशांति फैलाने में लगे हैं। ऐसे तत्वों पर सरकार नजर रख रही है। राष्ट्रविरोधी शक्तियों के लिए राज्य में कोई जगह नहीं है। ऐसी ताकतों का सिर कुचल दिया जाएगा। शनिवार को मुख्यमंत्री पाकुड़ की सोनाजोरी पंचायत के शमशेरा में जनचौपाल को संबोधित कर रहे थे।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने झारखंड मुक्ति मोर्चा पर हमला बोलते हुए कहा कि सीएनटी एसपीटी एक्ट पर हल्ला मचानेवाला सोरेन परिवार ने ही सबसे अधिक इस कानून का उल्लंघन किया है। गोला(रामगढ़), बोकारो, देवघर, धनबाद, साहिबगंज में कानून का उल्लंघन कर जमीनें लूट ली है, अब लुटेरा परिवार भाजपा पर जमीन लूटने का आरोप लगा रहा है।

उन्होंने झामुमो को चुनौती देते हुए कहा कि वे भी उनकी तरह घोषणा करें कि उनके पास केवल गोला में जमीन है। जैसे मैं घोषणा करता हूं कि मेरे पास केवल जमशेदपुर में ही जमीन है। झारखंड नामधारी पार्टियां कभी विकास की बात नहीं करतीं। क्या वह बताती कि गरीबों का विकास कैसे होगा। वोट के लिए सिर्फ जल, जंगल व जमीन की बात करती हैं।

कांग्रेस पर भी मुख्यमंत्री ने निशाना साधा। कहा कि राजनीतिक स्वार्थ के कारण कांग्रेस ने भाजपा की सरकार गिराकर एक आदिवासी युवक को मुख्यमंत्री बनाया और झारखंड को लूटा। कांग्रेस ने पूरा मधु खाकर उसे जेल में छोड़ दिया। विपक्षी पार्टियां लोगों को डराती थी कि भाजपा सत्ता में आएगी तो गरीबों की जमीन छिन लेगी। मुसलमानों को भगा देगी। आप ही बताएं कि विपक्ष के हल्ले में कितनी सच्चाई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार सबका साथ सबका विकास के सिद्धांत पर काम करती है। सरकार का मानना है कि जितनी बिजली ¨हदू के घरों में पहुंचे उतनी मुसलमानों के घरों में भी। 28 दिसंबर तक झारखंड के सभी घरों तक बिजली पहुंचेगी। मिलीजुली सरकार में बिचौलिये हावी होते हैं और इसका नुकसान आम लोगों को उठाना पड़ता है। उनकी सरकार बिचौलिया प्रथा को जड़ से खत्म करने पर तुली है। डीबीटी से इसमें काफी सफलता मिली है। सभी विधवा को पेंशन व आवास देगी सरकार

सीएम ने कहा कि राज्य के सभी गरीब परिवार को एलपीजी का कनेक्शन दिया जाएगा। किराए के मकान में रहने वाले को पक्का आवास मिलेगा। इसके साथ ही सभी विधवा को पेंशन व आवास सरकार देगी। इसमें एपीएल बीपीएल की कोई बाध्यता नहीं होगी। पाकुड़ राज्य का सबसे पिछड़ा जिला है इसलिए उनकी सरकार ने यहां के लिए बजट से अलग 50 करोड़ रुपये दे रही है। मुख्यमंत्री ने आयुष्मान भारत योजना को नमो केयर का नाम देते हुए कहा कि यहां के लोगों को आयुष्मान भारत समझने में परेशानी होगी। इसलिए उन्होंने इसे नमो केयर दिया है। जिसके पास भी राशन कार्ड है वे इसे दिखाकर नामित अस्पताल में अपना इलाज करा सकता हैं। उन्होंने कहा कि अब स्कूली बच्चों की पोशाक सखी मंडल बनाएगी। चौपाल में करोड़ों की परिसंपत्ति का वितरण मुख्यमंत्री ने किया।

इस मौके पर उपायुक्त कुलदीप चौधरी, एसपी शैलेन्द्र प्रसाद वर्णवाल, जिप अध्यक्ष बाबूधन मुर्मू आदि थे।

Posted By: Jagran