मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पाकुड़ : रवींद्र भवन में सोमवार को आयोजित ऑल आदिवासी यूथ एंड स्टूडेंट्स यूनियन के प्रथम स्थापना दिवस समारोह का उद्घाटन जिला परिषद अध्यक्ष बाबूधन मुर्मू, समाजसेवी जेम्स हेम्ब्रम, यूनियन के केंद्रीय अध्यक्ष मार्क बास्की, साहिबगंज के जिप सदस्य जोन मुर्मू, नीरज हेम्ब्रम, केंद्रीय सलाहकार लाउस हांसदा, दीपक तिर्की ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

इस मौके पर जिप अध्यक्ष ने कहा आदिवासी संस्कृति व परंपरा की पहचान को बचाने के लिए युवा पीढ़ी को आगे आना होगा। युवा वर्ग ही समाज में परिवर्तन ला सकते है। इसके पूर्व आदिवासी छात्र-छात्राओं ने अतिथियों का स्वागत आदिवासी परंपरा से किया। जिप अध्यक्ष ने कहा समाज के सभी स्तर के लोगों को अपने स्तर पर बदलाव लाने की आवश्यकता है। युवा पीढ़ी शिक्षित बनकर समाज को शिक्षित करे। केंद्रीय सलाहकार लाउस हांसदा ने कहा कि समाज के युवापीढ़ी को संगठित होकर हक की लड़ाई लड़नी होगी। उन्होंने कहा कि राजनीतिक पार्टियां युवा पीढ़ी को मोहरा बनाकर अपना मतलब निकाल लेती है। पूर्व राष्ट्रीय संयोजक जंतु सोरेन ने कहा कि संवैधानिक संशोधन के नाम पर आदिवासियों को छला जा रहा है। जेम्स मुर्मू ने कहा कि आदिवासी समाज विकास के अंतिम पायदान पर है। युवाओं को एकजुट होकर आंदोलन करने की जरूरत है। जिप सदस्य नीरज हेम्ब्रम ने कहा कि केंद्र में जो भी सरकार रही है सभी ने सिर्फ विकास का ¨ढढोरा ही पीटता है। समाज हित से युवा पीढ़ी जागरूक हो तभी समाज का विकास होगा।

इसके अलावा बेंजामिन हेम्ब्रम, प्रो. जोएल मुर्मू, जिप सदस्य जोन मुर्मू, दीपक तिर्की, शिव टुडू आदि ने विचार रखे। कार्यक्रम का संचालन सुनील सोरेन व मोनिका मरांडी ने की। इस मौके पर मोहन हांसदा, निर्मल , एमानुएल मुर्मू, रमेश हेम्ब्रम, मोहन हेम्ब्रम आदि मौजूद थे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप