लोहरदगा : विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा-अर्चना रविवार को भक्ति भाव से की जाएगी। इसे लेकर सभी तैयारियों पूरी कर ली गई है। जिले के 500 से ज्यादा स्थानों में मां सरस्वती की पूजा होगी, विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा को लेकर सरकारी व गैर-सरकारी विद्यालयों में भी तैयारी पूरी कर ली गई है। शहर से लेकर हर गांव-चौराहे तक में पूजा-पंडाल का निर्माण कर विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा-अर्चना की जाएगी। माता की आराधना को लेकर जगह-जगह पर पूजा पंडालों का निर्माण कार्य पूरा कर लिया गया है। सरस्वती पूजा को लेकर सबसे ज्यादा उत्साह विद्यार्थी वर्ग और युवाओं में दिख रहा है। मां शारदे की पूजा को लेकर युवाओं की टोली विगत कई दिनों से तैयारी में जुटे थे, जिसका आज अंतिम रूप से तैयारी पूरी कर ली गई। विद्यार्थियों व युवाओं ने आपसी सहयोग और चंदा से सरस्वती पूजा की तैयारी की है। युवाओं ने रात-रात भर जागकर पंडाल का निर्माण किया है। चौक-चौराहों के अलावा शैक्षणिक संस्थानों में भी तैयारी की गई है। रविवार को अहले सुबह से ही मां सरस्वती की पूजा-अर्चना कर विद्या, सुख, शांति और समृद्धि की कामना की जाएगी। पूजा को लेकर छोटे-छोटे बच्चों का उत्साह भी देखते ही बन रहा है। अभी से ही जगह-जगह पर भक्ति गीत बज रहे हैं। जिसे लेकर लोगों का उत्साह नजर आ रहा है। रविवार को लोग पूरे परिवार के साथ पूजा पंडालों में पहुंचकर माता का प्रसाद ग्रहण करेंगे। भंडरा में 50 स्थानों पर होगी सरस्वती पूजा

संवाद सूत्र, भंडरा (लोहरदगा) : बसंत पंचमी में मां शारदे की पूजा-अर्चना को लेकर प्रखंड क्षेत्र में तैयारी पूरी कर ली गई है। मूर्तिकारों द्वारा बड़ी संख्या में प्रतिमाओं का निर्माण किया गया है। मां शारदे की पूजा-अर्चना को लेकर स्कूली बच्चे-बच्चियों के साथ-साथ प्रखंड बस्ती के युवा भी मां की पूजा को ले पिछले कई दिनों से लगे हुए हैं। प्रखंड क्षेत्र में लगभग 50 स्थानों में पंडाल निर्माण कर सरस्वती पूजा किया जा रहा है। सरस्वती पूजा को लेकर प्रखंड के भंडरा, कुम्हारिया, आकाशी, भौंरो, मसमानो, सेमरा, चट्टी, कचमची, भीठा आदि गांवो में पूजा को ले पंडाल निर्माण किया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस