सेन्हा (लोहरदगा) : सेन्हा प्रखंड कार्यालय स्थित सभागार में कृषि चौपाल कार्यक्रम शुक्रवार को हुआ। तीन दिवसीय कृषि चौपाल के अंतिम दिन जिला गव्य विकास पदाधिकारी तीरदेव मंडल ने कहा कि किसान कृषि कार्य के साथ-साथ गौ-पालन को अपनाकर आय वृद्धि करें। उन्होंने कहा कि किसान पशुपालन करने के साथ छोटे-छोटे तालाब, डोभा आदि में मछली पालन करें। कृषि कार्य में बेहतर उत्पादन करें, बकरी, गाय, मुर्गी एवं सुकर पालन कर आर्थिक रूप से मजबूत बनें, पशुओं को समय पर टीकाकरण कराएं, पशु चिकित्सक अगर नहीं मिलते है या कोई समस्या आती है तो इसकी शिकायत तुरंत ¨सगल ¨वडो केंद्र में दर्ज कराएं। यहां हर प्रकार की समस्या का समाधान होता है, समस्या के निदान के लिए कहीं भाग-दौड़ करने की जरूरत नहीं है। वैज्ञानिक तरीके से कृषि कार्य कर आर्थिक रूप से मजबूत बनें। पशुपालन एवं मत्स्य पालन कार्य में रूचि लें। उन्होंने कहा कि बीपीएल परिवार को अनुदान में गाय देने के लिए चिन्हित गांव के किसान को गाय दिया जाएगा। ऋण सह अनुदान योजना में सामान्य जाति को 25 फीसदी एवं एसटीएससी को 33 फीसदी अनुदान पर गाय दिया जाता है। मौके पर पशुपालन विभाग द्वारा 35 किसानों के बीच दवा का वितरण किया गया। जबकि 27 किसानों के बीच मछली बीज, 50 किसानों के बीच धान बीज एवं 60 किसानों के बीच उरद के बीज का वितरण किया गया। मौके पर जिला मत्स्य पदाधिकारी जगदीश सिन्हा, प्रखंड 20 सूत्री अध्यक्ष रामकिशोर शुक्ला, राम नंदन साहू, डॉ अभिनव, जगदीश लकड़ा, ¨टकी जायसवाल एवं धर्मेंद्र प्रसाद आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस