जागरण संवाददाता, लोहरदगा : लोहरदगा के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में रविवार को सुख-शांति, समृद्धि और दीपों का त्योहार दीपावली हर्षोल्लास के वातावरण में प्रेम व सौहार्द के साथ धूमधाम से मना। दीपावली के मौके पर लोगों ने लक्ष्मी-गणेश की पूजा-अर्चना कर दीप जलाकर घरों को रोशन करने के बाद आतिशबाजी कर दीपावली का त्योहार मनाया। दीपावली पर्व को लेकर लोगों ने अपने-अपने घरों और प्रतिष्ठानों को फूल माला और लाइटिग से सजाया था। दीपावली की रोशनी के सौंदर्य से रविवार की रात घर-संसार जगमगाता रहा। शहर से लेकर गांव के हर गली-मुहल्ला रोशन हो गया था। आतिशबाजी के दौर, एक-दूसरे को शुभकामनाएं देने की होड़, मिठाई खिलाकर त्योहार की खुशियां बांटने की ललक ने दीपावली को और भी रोशन कर दिया। सुख-समृद्धि की कामना के साथ जिलेवासियों ने दीपावली का त्योहार मनाया। शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों ने मां लक्ष्मी, भगवान गणेश, कुबेर की पूजा-अर्चना अपने-अपने घरों और प्रतिष्ठानों के साथ-साथ पूजा पंडाल में भी भक्ति भाव से की। दीपावली के मौके पर सुख समृद्धि की कामना के साथ लोग भगवान की आराधना में जुटे रहे। लक्ष्मी-गणेश की वंदना में जुटे रहे श्रद्धालु

लोहरदगा : दीपावली के दिन रविवार को श्रद्धालुओं ने लक्ष्मी-गणेश की प्रतिमा स्थापित कर आस्था व उल्लास के साथ पूजा-अर्चना की। इस दिन जिले के कई स्थानों में पूजा पंडाल का निर्माण कर मां लक्ष्मी की प्रतिमा स्थापित की गई। जबकि घरों व व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में भी लोगों ने लक्ष्मी-गणेश की वंदना कर सुख समृद्धि की कामना की। दीपावली के दिन शहर के महादेव टोली रोड में प्रतिमा स्थापित कर लक्ष्मी-गणेश की पूजा-अर्चना की गई। पूजा-पंडाल में मां लक्ष्मी और भगवान गणेश के दर्शन एवं प्रसाद पाने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी थी। पूजा पंडालों में की गई आकर्षक विद्युत साज-सज्जा लोगों को आकर्षित कर रही थी। लक्ष्मी पूजा के मौके पर चारों ओर बज रहे भक्ति गीत से वातावरण भक्तिमय हो गया था। दीपों से जगमगाया घर संसार

लोहरदगा : दीपावली पर रविवार की रात दीपों से घर-संसार जगमगा उठा। दीपावली के मौके पर इस वर्ष चाइनीज बल्बों की लरियां की अपेक्षा मिट्टी के दीयों से लोगों ने घर ज्यादा रोशन हुए। शहर के मुख्य पथ के अलावा गली-मुहल्लों, दुकानों, प्रतिष्ठानों, घरों में मिट्टी के दीये जगमगा रहे थे। दीपावली पर हर घर रोशन नजर आ रहा था। लोगों ने पूरे उत्साह के साथ दीपोत्सव का आनंद लिया। आतिशबाजी से गूंजता रहा वातावरण

लोहरदगा : दीपावली पर हुई आतिशबाजी से पूरा वातावरण गूंज रहा था। दीपावली की रात छोटे-छोटे बच्चों के साथ युवाओं ने जमकर आतिशबाजी की। लक्ष्मी-गणेश की वंदना के बाद आतिशबाजी का दौर शुरू हुआ, जो रात 10 बजे के बाद तक पटाखों की गूंज से वातावरण को गुंजायमान कर दिया। सर्वोच्य न्यायालय के आदेश के बावजूद रात 10 बजे के बाद भी शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में पटाखों की आवाज कम ही लेकिन सुनाई दी। आतिशबाजी से वातावरण में बारुद का धुआं और हवा का प्रदूषण भी काफी बढ़ गया था। हालांकि शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र में हर ओर दीपावली की खुशियां छाई हुई थी। पटाखा और मिठाई की खूब हुई बिक्री

लोहरदगा : सुख-समृद्धि का पर्व दीपावली के मौके पर मिठाई और पटाखों की खूब बिक्री हुई। दीपावली के त्योहार पर मिठाई और पटाखों की मांग को देखते हुए शहर के कई हिस्सों में दुकानें सजी हुई थी। पटाखों और मिठाई की दुकानों में लोगों की भीड़ देखी गई। लोगों ने जरूरत के अनुरूप पटाखों के साथ-साथ बर्फी, लड्डू, पेड़ा आदि मिठाइयों की जमकर खरीदारी की। शहर के बाजार में हर वर्ग के अनुरूप मिठाई और पटाखे उपलब्ध थे। दीपावली पर सबसे अधिक बच्चों में उत्सुकता नजर आई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस