लोहरदगा, जासं। लोहरदगा जिले के बगड़ू थाना अंतर्गत भूषाड़ जामुन टोली गांव में पैसे के विवाद में एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई है। घटना की जानकारी मिलने के बाद बगड़ू थाना पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया है। साथ ही मामले की जांच और आगे की कार्यवाही में भी जुट गई है। बताया जा रहा है कि भूषाड़ जामुन टोली निवासी स्वर्गीय जमा उरांव का पुत्र बाबुराज उरांव (28 वर्ष) 4 दिन पहले ही ईट भट्ठे से वापस अपने गांव लौटा था।

अस्‍पताल में गमगीन मृतक के परिजन।

वह वहां से लगभग साढ़े नौ हजार रुपए कमा कर घर वापस लौटा था। पैसे को उसने कथित तौर पर बाबुराज उरांव ने अपने दोस्त को दे दिया था। इसी पैसे को बाबुराज उरांव वापस मांग रहा था। विगत 12 जून को रात के करीब 8 बजे भूषाड़ जहाजीटांड़ निवासी जिगो उरांव का पुत्र संदीप उरांव और एक अन्य युवक बाबुराज उरांव को घर से घूमने के बहाने बुला कर ले गए थे। इसके बाद से बाबुराज उरांव का कोई पता नहीं चल पा रहा था।परिजनों ने काफी खोजबीन की, परंतु कोई जानकारी नहीं मिल पा रही थी।

गुरुवार को बाबुराज उरांव गंभीर हालत में गांव के समीप झाड़ियों में पड़ा मिला। उसके सिर और शरीर के अन्य हिस्सों में टांगी और डंडे से बुरी तरह से वार किया गया था। इसकी जानकारी परिजनों ने तत्काल बगड़ू थाना पुलिस को दी। बगड़ू थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बाबुराज उरांव को इलाज के लिए लोहरदगा सदर अस्पताल पहुंचाया। जहां इलाज के दौरान शुक्रवार की रात बाबुराज उरांव की मौत हो गई। इस घटना को लेकर परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।

बाबुराज उरांव विवाहित था। उसकी पत्नी पेतो उरांव और पुत्री अर्चना सहित परिवार के अन्य सदस्यों के भरण-पोषण की जिम्मेवारी भी बाबूराज उरांव पर थी। पुलिस मामले की जांच और आगे की कार्रवाई कर रही है। मामले में बगडू थाना प्रभारी सोनू चौधरी का कहना है कि पुलिस मामले की जांच कर रही है, जांच के बाद ही कुछ स्पष्ट होगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस