बारियातू : आरएसएस की सायं शाखा में विजयादशमी उत्सव स्वयं सेवकों ने धूमधाम से मनाया। उत्सव की शुरुआत शाखा कार्यवाह अभिषेक कुमार ने सर्वप्रथम भगवाध्वज लगाकर शस्त्र पूजन के साथ अब जागकर हमको जगाना देश है गीत गाकर किया। उत्सव में उपस्थित पलामू विभाग संघ चालक जानकीनंदन राणा ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की स्थापना 1925 ई. में विजयादशमी के दिन ही की गई थी। तब से ही आरएसएस की सभी शाखाओं में विजयादशमी उत्सव मनाया जाता है। दुर्गापूजा शक्ति की पूजा है सभी देवताओं के तेज से मां दुर्गा शक्ति की देवी के अंग प्रत्यंग का निर्माण हुआ। तब मां दुर्गा ने शेर पर सवार होकर महिषासुर का वधकर धर्म की स्थापना में सहायक सिद्ध हुई तभी से सनातन धर्मावलंबी शक्ति के रूप में मां दुर्गा की पूजा प्रतिवर्ष करते हैं। साथ ही भगवान श्रीराम ने रावण का वध कर लंका में विजय प्राप्त किया था तभी से पूरे भारत में दशहरा पर्व मनाया जाता है। संघ की शाखा में विश्व की मंगल और कल्याण की कल्पना की जाती है और यही हिन्दू संस्कृति का मूल स्वरूप भी है। इस मौके पर सतेन्द्र कुमार, सोनू कुमार, प्रदीप उरांव, नितेश कुमार, प्रसून कुमार, पवन कुमार, लाल बाबू, सहित कई स्वंय सेवक उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप