चंदवा : विकास योजनाओं को धरातल पर उतारने व गांव विकास की जिम्मेदारी पंचायत प्रतिनिधियों पर है। उनके प्रयास से ही गांव विकास की ओर अग्रसर होगा। उक्त बातें उपायुक्त राजीव कुमार ने चंदवा पूर्वी पंचायत सचिवालय में लोगों को संबोधित करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि पंचायत प्रतिनिधि गांव की सारी समस्याओं से अवगत होते हैं। ऐसे में उनकी जवाबदेही बनती है कि वे गांव विकास की रणनीति बनाएं। इस दौरान अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों से सीधे संवाद के दौरान पदाधिकारियों एवं पंचायत प्रतिनिधियों को आपसी समन्वय बनाकर विकास को गति देने कही। स्पष्ट कहा कि विकास के प्रति लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। बैठक में उपायुक्त मनरेगा, विद्यालय की अद्यतन स्थिति, प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण, समेत अन्य योजनाओं की समीक्षा कर जनप्रतिनिधियों को निर्देशित किया। प्रखंड से पलायन पर नपेंगे बीडीओ एवं मुखिया :

बीडीओ व मुखिया को मनरेगा योजना में सुधार करते कहा कि जिला प्रशासन द्वारा मनरेगा एवं अन्य योजनाएं संचालित की जा रही है बावजूद इसके यदि कोई काम के अभाव में पलायन करता है तो पंचायत के मुखिया व बीडीओ पर जवाबदेही तय कर कार्रवाई की जाएगी।

मौके पर डीआरडीए निदेशक संजय भगत, एनडीसी ¨प्रस गोडविन कुजूर, प्रखंड विकास पदाधिकारी अर¨वद कुमार, सीओ मुमताज अंसारी, प्रमुख नवाहीर उरांव, उपप्रमुख फिरोज अहमद, तकनीकि सहायक आशीष पांडेय, अर¨बद पांडेय, मुखिया निरल टोपनो, पुष्पा देवी, पंचायत सेवक, जनसेवक, आंगनबाड़ी सेविका, पंचायती राज जनप्रतिनिधि व अन्य उपस्थित थे।

Posted By: Jagran