जागरण संवाददाता, लातेहार : समाहरणालय सभागार में जिला आपूर्ति विभाग के कार्यो की समीक्षा की गई। बैठक की अध्यक्षता उपायुक्त अबू इमरान ने की। उपायुक्त ने जिले के लिए भेजे जा रहे आवंटन की जानकारी ली। कहा कि खाद्यान्न का उठाव एवं वितरण ससमय हो इसे सुनिश्चित करें। जिले में किसी भी व्यक्ति की भूख से मौत नहीं हो इसे सुनिश्चित करें। अगर किसी गांव, पंचायत या प्रखंड में भूख से मौत की सूचना मिलेगी तो संबंधित पदाधिकारियों परकार्रवाई की जाएगी। उपायुक्त ने सभी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी एवं जन वितरण दुकानदारों को गरीब, असहाय एवं जरूरतमंद लोगों को चिह्नित कर उन तक राशन पहुंचाने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री दाल-भात योजना की भी समीक्षा की गई। जिले में 13 दाल-भात केंद्र संचालित हो रहे हैं। संबंधित सभी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी को मुख्यमंत्री दाल-भात केंद्र का निरीक्षण कर रिपोर्ट सौंपने की बात कही। ई-पॉश मशीन की जानकारी ली जिसमें बताया गया के जिले में कुल 567 जन वितरण दुकानदार है जिसमें 417 ई-पॉश मशीन से जुड़े हैं जबकि शेष 150 लंबित हैं। उपायुक्त ने पाया कि जिले में 6 लाख 63 हजार 39 लाभुक हैं जिनमें 62840 लाभुकों का आधार सीडिग नहीं हो पाई है। आपूर्ति विभाग से संचालित अन्य योजनाओं की भी समीक्षा कर लाभुकों तक राशन ससमय पहुंचाने का निर्देश दिया। जिला आपूर्ति पदाधिकारी संजय कुमार दास, प्रखंड विकास पदाधिकारी सह एमओ मनीष कुमार, टुडू दिलीप, सीओ रवि कुमार, सच्चितानंद, लीनुस बेक, सभी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी, जन वितरण दुकानदार मौजूद थे।

उपायुक्त ने पहली बार जविप्र दुकानदारों से किया सीधा संवाद :

जिला आपूर्ति विभाग की समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने पहली बार जनवितरण दुकानदारों को बैठक में बुलाया एवं उनसे सीधा संवाद किया। जन वितरण दुकानदारों ने उपायुक्त के समक्ष राशन उठाव व वितरण में आने वाली समस्याओं को रखा। उपायुक्त ने सभी जन वितरण दुकानदारों को पूरी ईमानदारी से लाभुकों के बीच राशन वितरण करने की बात कही, ताकि जो भी सरकार का उद्देश्य है वह पूरा हो सके।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप