चंदवा : टोरी हिंडालको साय¨डग में अनलोडर मजदूर के रूप में कार्यरत संदीप उरांव (पिता लखन उरांव) की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार मंगलवार की सुबह वह डेमटोला स्थित अपने आवास में बाजा बजाने व मोबाइल चार्ज करने के लिए विद्युत तार जोड़ रहा था। इसी क्रम में वह बिजली प्रवाहित तार की चपेट में आ गया। इससे उसकी मौत हो गई।

बिजली के झटके का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वह तार के साथ चिपक खड़ा रह गया। काफी देर तक घर में कोई हलचल नहीं होने व किसी अनहोनी की आशंका पर पास के कुछ लोग जब घर के अंदर गए तो पाया कि वह गिरा पड़ा है। जब तक लोग उसके इलाज की व्यवस्था करा पाते तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। उसकी पत्नी तीन बच्चों के साथ पटना शहर में काम करती है। सूचना पर उसके परिजन डेमटोला पहुंचने लगे थे वहीं गांव के लोग उसके अंतिम संस्कार की तैयारी में जुटे थे। इधर 220 वोल्ट के तार की चपेट में आने के बाद उसकी मौत को लेकर भी कई तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म था।

Posted By: Jagran