गारू : गारू प्रखंड के डोमाखाड़ विद्यालय परिसर के समीप जेएसएलपीएस की ओर से कार्यक्रम आयोजित की गई। कार्यक्रम में उपायुक्त राजीव कुमार एवं एसपी प्रशांत आनंद ने बतौर मुख्य अतिथि शिकरत की। उपायुक्त ने महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि गांव की विकास की डोर महिलाओं के हाथों में है।

उन्होंने कहा कि गांव की महिलाएं सशक्त होगी तो निश्चित रूप से जिला एव राज्य विकास के पथ पर अग्रसर होगा। इस दौरान उपायुक्त ने सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ उठा कर महिलाओं को जीवन परिवर्तन करने को लेकर प्रेरित किया। एसपी प्रशांत आनंद ने कहा कि गलत रास्ता कभी मंजिल नहीं दे सकता है। उन्होंने स्वार्थी तत्व जो गांव के विकास में बाधक है उन्हें पहचान कर गांव से भगाने एवं गांव के ग्रामीणों को एक नई जिदंगी शुरुआत करने की बात कही। उन्होंने कहा कि आप सभी आज यह संकल्प ले अपने गांव में नक्सलियों को पनाह नहीं देंगे। उन्होंने बताया कि आज गांव के पिछड़े पन का महज एक ही कारण है कि आप सभी ने वैसे लोगों को पनाह दिया जो विकास में बाधक है। एसपी श्री आनंद ने ग्रामीणों को अपने गांव के विकास के लिए बीड़ा उठाने को लेकर प्रेरित किया। मौके पर गढ़वा पुलिस अधीक्षक शिवानी तिवारी, जगुआर एसपी सीआरपीएफ के कमांडेट अजय कुमार समेत सीआरपीएफ एवं पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे। इससे पूर्व उपायुक्त राजीव कुमार एवं एसपी प्रशांत आनंद का महिलाओं ने पारंपरिक ढंग से मांदर की थाप पर स्वागत किया।

Posted By: Jagran