मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

लातेहार [जागरण स्पेशल]। भारत में रेलवे क्रॉसिंगों पर होने वाले हादसे कोई नई बात नहीं है। यहां लगभग हर शहर में कहीं न कहीं प्रतिदिन लोगों को रेलवे क्रॉसिंग पर जाम का सामना करना पड़ता है। कई बार रेलवे क्रॉसिंग पर लगने वाला ये जाम जानलेवा भी बन जाता है। ऐसा ही एक दर्दनाक हादसा हुआ झारखंड राज्य के लातेहार एरिया में।

घटना बुधवार दोपहर लातेहार जिले के टोरी रेलवे जंक्शन के पास हुई है। इस रेलवे जंक्शन पर दिलीप पांडेय बतौर स्टेशन मास्टर तैनात हैं। दोपहर में वह रोज की तरह रेलवे स्टेशन पर तैनात थे। इसी दौरान घर पर उनकी मां की तबियत खराब हो गई। सूचना पाकर सरकारी एंबुलेंस 108 उन्हें लेने के लिए घर भी पहुंच गई।

एंबुलेंस दिलीप पांडेय की बीमार मां को घर से लेकर अस्पताल की तरफ लौट रही थी। इसी दौरान टोरी (अलौदिया) के पास एंबुलेंस रेलवे क्रॉसिंग बंद होने के कारण जाम में फंस गई। ये रेलवे क्रॉसिंग, स्टेशन मास्टर दिलीप पांडेय की सीमा में ही आता है। बावजूद एंबुलेंस करीब 30 मिनट तक बंद रेलवे क्रॉसिंग पर फंसी रही।

रेलवे क्रॉसिंग खुलने के बाद एंबुलेंस जब तक उनकी बीमार मां को लेकर अस्पताल पहुंची, बहुत देर हो चुकी थी। अस्पताल में डॉक्टर नीलिमा व वार्ड ब्वॉय भोला ने उनका चेकअप कर उन्हें मृत घोषित कर दिया। डॉक्टर के अनुसार दिलीप पांडेय की मां जिस दौरान रेलवे क्रॉसिंग पर जाम में फंसी थी, संभवतः उसी दौरान उनकी मौत हो चुकी थी।

एंबुलेंस के ड्राइवर ने भी डॉक्टर को बताया कि रोगी की सांस रेलवे क्रॉसिंग पर ही थम गई थी। ड्राइवर के अनुसार रेलवे क्रॉसिंग बंद होने पर वहां अक्सर जाम लग जाता है। इस वजह से मरीज के घर जाने और उसे अस्पताल लाने में अक्सर देर हो जाती है। बुधवार को ये देर खुद स्टेशन मास्टर की मां को भारी पड़ गई।

बता दें कि क्राॅसिंग पर लगातार हो रहे जाम के बीच आम जनता समेत अन्य आवश्यक सेवाएं अक्सर बाधित हो जा रही हैं। कई लोगों की जान इस क्रॉसिंग गेट जाम में फंसकर हो चुकी है। विगत कुछ महीनों का आलम यह है कि क्रॉसिग पर पहुंचते ही लोगों में क्रॉसिंग का भय चेहरे पर झलकने लगता है। स्टेशन मास्टर की मां के निधन की सूचना पर माकपा नेता अयूब खान, बैजनाथ ठाकुर, कमल गंझू, द्वारिका ठाकुर समेत अन्य ने शोक प्रकट करते हुए परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट की है।

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप