संवाद सहयोगी, झुमरीतिलैया : झारखंड सरकार ने छठी कक्षा से ऊपर के छात्रों के लिए स्कूल खोलने की घोषणा कर दी है, मगर इसकी लिखित सूचना स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग से अब तक नहीं पहुंची है। इस कारण अब कोडरमा के सरकारी व निजी स्कूल सोमवार के बाद ही कक्षा छह से ऊपर के छात्रों के लिए खुल पाएंगे। निजी स्कूलों की ओर से कक्षाओं के खुलने को लेकर सारी तैयारी शुरू कर दी गई है। शनिवार तक इन स्कूलों में आनलाइन कक्षाएं हुर्इं। आफलाइन कक्षा प्रारंभ होते ही आनलाइन कक्षाएं खत्म हो जाएंगी। सचिव का आदेश आते ही सभी स्कूलों को जिला स्तर से पत्र भेज दिया जाएगा। उसके बाद सारे स्कूल कक्षा छह से ऊपर के छात्रों की आफलाइन कक्षाओं के लिए खुल जाएंगी। इधर, कक्षा छह से ऊपर के बच्चों के स्कूल खुलने की आहट से स्कूल ड्रेस सिलाने तथा इसके खरीदने की होड़ शुरू हो गई है। कपड़ा दुकानों के साथ-साथ दर्जी की दुकानों पर अचानक भीड़ बढ़ गई है। गत वर्ष भी अभिभावकों ने स्कूल ड्रेस सिलाया था, लेकिन मार्च में ही कोरोना की वजह से स्कूल बंद हो गए थे। लिहाजा ये बिना पहने छोटे हो गए। दर्जी की दुकान पर कुछ ऐसे अभिभावक भी पहुंच रहे हैं, जो पूर्व में सिले ड्रेस की फिटिग करने का आग्रह कर रहे हैं। अभिभावक रजनी देवी ने बताया कि उनका बेटा घर में रहकर मोटा हो गया है, इस कारण बच्चे का स्कूल ड्रेस दुबारा खरीदना है। अब स्कूल जाना है तो ड्रेस में ही चलेगा। घर में पुराने कपड़े में ही किसी तरह काम चल जाता था। सिर्फ यहीं नहीं स्कूल पूरी राशि भी लेंगे, इसकी भी चिता सता रही है। अब तक सिर्फ ट्यूश्न फी में काम चल रहा था। अब अभिभावकों को पूरी फीस देनी पडे़गी। स्कूल अब इसके लिए दबाव बनाएंगे।

Edited By: Jagran