कोडरमा, जागरण संवाददाता। कोडरमा लोकसभा क्षेत्र में तीन प्रमुख दलों में भाकपा माले और झाविमो के उम्मीदवार की घोषणा के बाद अब तीसरे व सबसे प्रमुख दल भाजपा के उम्मीदवार पर सभी की निगाहें टिकीं हुई हैं। पिछले कई दिनों से यहां उम्मीदवार को लेकर सस्पेंस चल रहा है।

बाबूलाल मरांडी व राजकुमार यादव दोनों पुराने चेहरे हैं। जबकि हाल ही में राजद छोड़ भाजपा में शामिल हुईं अन्नपूर्णा देवी का नाम लगभग तय माना जा रहा है। वहीं निवर्तमान सांसद रवींद्र राय भी अपनी उम्मीदवारी बचाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगाए हुए हैं। आलाकमान की ओर से घोषणा होने तक संशय बरकरार है।

अन्नपूर्णा देवी यदि भाजपा प्रत्याशी हुईं तो उनके लिए लोकसभा की पारी भी नई होगी और मैदान भी नया होगा। हालांकि कोडरमा विधानसभा क्षेत्र से वो कई बार विधायक रह चुकी हैं, लेकिन लोकसभा चुनाव में अन्नपूर्णा देवी के लिए नया मैदान, नई पार्टी होगी, जबकि भाजपा के लिए वो नया चेहरा होंगी। ऐसे में उन्हें एक साथ कई चुनौतियों का सामना करना होगा।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस