कोडरमा, जासं। विश्व व्यापी कोरोना-19 को लेकर झारखंड सरकार के द्वारा लॉकडाउन की घोषणा के बाद सोमवार को झुमरीतिलैया शहर का बाजार खुला। इसमें मुख्य रूप से कपड़ा, मोटर पाटर्स, होटल, कल-कारखाने, एनएच-31 पर चल रहा निर्माण कार्य रूके रहे, वहीं सब्जी, खाद्य सामग्री, दूध, पेट्रोल पंप, दवा दुकानों में खरीदारों की भीड़ सुबह से ही उमड़ रही है। जनता कर्फ्यू के बाद मुख्य रूप से बाजार में सब्जी का आवक नहीं हो पाया। ऐसे में आलू समेत कई सब्जियां बाजार से गायब है।

इनके मूल्यों में भी वृद्धि हुई है। झुमरीतिलैया के स्टेशन रोड, हटिया रोड, झंडा चौक समेत विभिन्न इलाकों के खाद्य सामग्री दुकानों में खरीदारों की भीड़ सुबह 9 बजे के बाद से उमड़ने लगी है और अगले एक सप्ताह से 15 दिनों तक की सामानों की खरीदारी कर रहे हैं। खाद्य सामग्रियां पूर्व के मूल्य पर ही बिक रही है। वहीं विभिन्न कंपनियों के दूध व ब्रेड की बिक्री में इजाफा हुआ है। लोग फलों की भी खरीदारी कर रहे हैं। शहर के अधिकतर मिठाई होटल के शटर बंद हैं।

बिग बाजार में खाद्य सामग्रियों की होम डिलेवरी भी दी जा रही है। पूर्णिमा टॉकिज के समीप से खुलने वाले ऑटो एवं शहर में चलने वाले टोटो बेरोकटोक चल रहे हैं, जबकि बड़े बाहन नगण्य हैं। सरकार ने बिहार के बोर्डर को शील किया है। ऐसे बिहार, नवादा आदि इलाकों की लंबी दूरी की बसें नहीं चल रही है।

कोडरमा स्टेशन से खुलने वाली कोडरमा-कोआर, कोडरमा-मधुपुर, कोडरमा-हजारीबाग टाउन होते हुए बरकाकाना जानेवाली ट्रेन भी रद रही, जबकि ग्रैंडकॉर्ड सेक्शन के नई दिल्ली-हावड़ा रेलखंड पर दौड़ने वाली वीवीआईपी ट्रेन राजधानी समेत एक्सप्रेस व पैसेंजर ट्रेन का परिचालन 31 मार्च तक रोक दिया गया है। ऐसे में स्टेशन के कैंटिन बंद हैं, जबकि पार्किंग में लगनेवाले वाहनों की नगण्य हो गई है। आम दिनों की तरह मंदिरों के पट सुबह खुले।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस