खूंटी : जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त सूरज कुमार ने मतदाता पुनरीक्षण 2019 संबंधित कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप पर 20 बीएलओ सुपरवाइजर को स्पष्टीकरण पूछते हुए संबंधित पदाधिकारियों पर विभागीय कार्रवाई चलाने का आदेश जारी किया है। इस संबंध में उपायुक्त सूरज कुमार ने पत्र लिखकर दो दिनों के अंदर संबंधित पदाधिकारियों को स्पष्टीकरण देने व इनके पंद्रह दिनों का वेतन काटने का निर्देश दे दिया है। उन्होंने कहा है कि ठोस तरीके से नहीं देंगे, तब उनके खिलाफ कार्रवाई होना तय है। इधर, उप निर्वाचन पदाधिकारी खूंटी के रोहित कुमार ने बताया कि हर बीएलओ को लक्ष्य के अनुसार 10 से लेकर 200 तक मतदाताओं को जोड़ने का काम दिया गया था, लेकिन इन्होंने काम नहीं किया। मतदाता संबंधित कार्यो के इस तरह की कोताही हर हाल में बर्दाश्त नहीं कि जाएगी।

---

इनपर चल सकती है कार्रवाई

कार्रवाई किए जाने वालों में कर्रा प्रखंड के हरिशंकर शर्मा सहायक शिक्षक, श्याम किशोर साहू सहायक शिक्षक, ठाकुर प्रसाद अहीर सहायक शिक्षक, कृष्ण कुमार सिंह सहायक शिक्षक, सुरेंद्र प्रसाद सेठ सहायक शिक्षक, विनोद कुमार सिंह सहायक शिक्षक के नाम शामिल है। इसी तरह खूंटी प्रखंड के सहायक शिक्षकों में आलोक लकड़ा, रंजीत सिंह कच्छप, अटल विश्वास होरो, आभा लकड़ा तथा खूंटी प्रखंड के राजेंद्र नाथ मांझी प्रखंड कृषि पदाधिकारी खूंटी व कर्ण प्रसाद प्रखंड कल्याण पदाधिकारी के नाम शामिल है। इसी तरह मुरहू के जनसेवक सुखराम सेवक, हेरमन मुंडा, सुबोध कच्छप, सोमा कच्छप तथा मुरहू के पंचायत सचिव महाबीर साहू के नाम शामिल है। इसी तरह तोरपा प्रखंड के सहकारिता प्रसार पदधिकारी जयप्रकाश, तोरपा महिला पर्यवेक्षक पिकी कुजूर व रनिया महिला पर्यवेक्षक रेणु जायसवाल के नाम शामिल हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस