कोरबा, अड़की सहित कई जगहों पर लगेंगी हाई मास्ट लाइट

संसू, खूंटी : उपायुक्त शशि रंजन की अध्यक्षता में बुधवार को विशेष केंद्रीय सहायता योजना से संबंधित बैठक का आयोजन किया गया। बैठक के दौरान स्वास्थ्य के क्षेत्र में एससीए मद से आवश्यक व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करने पर विशेष चर्चा की गई। बैठक में उपायुक्त ने विशेष केंद्रीय सहायता योजना के तहत विभिन्न स्तर से प्राप्त योजनाओं के प्रस्ताव पर विचार-विमर्श किया। मौके पर पुलिस अधीक्षक अमन कुमार और सीआरपीएफ के कमांडेंट द्वारा दिए गए प्रस्तावों पर चर्चा की गई। इसमें सुरक्षा के दृष्टिकोण से कोरबा, बीरबांकी व अड़की में हाई मास्ट लाइट लगाने का निर्णय लिया गया। साथ ही जियारप्पा स्थित सीआरपीएफ के नए मुख्यालय में जलमीनार और पहुंच पथ को लेकर चर्चा की गई। खूंटी थाना में बैरक के प्रस्ताव पर उपायुक्त ने कार्यपालक अभियंता भवन विभाग को निर्देश दिया कि जांच कर विशेष कार्ययोजना तैयार किया जाए। साथ ही आम्रेश्वर धाम में बैरक बनाने का निर्णय लिया गया। इसके अतिरिक्त अड़की के चुकलु ग्राम में पीसीसी पथ एवं बीरबांकी चौराहे और कोचांग बाजार में हाई मास्ट लाइट लगाने का निर्णय लिया गया। शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि एवं जल संसाधन कल्याण, आइओ की योजनाओं व जिला परिषद से संबंधित योजनाओं के संबंध में बैठक में चर्चा की गई। उपायुक्त ने विशेष केंद्रीय सहायता मद के तहत क्रियान्वित योजनाओं की अद्यतन भौतिक एवं वित्तीय प्रगति की समीक्षा की और कार्यपालक अभियंताओं से जानकारी ली तथा योजनाओं को स-समय पूर्ण करने का निर्देश दिया। समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल, ग्रामीण विकास विभाग एवं कार्यकारी एजेंसियों को निदेश दिया कि सभी स्वीकृत परियोजनाओं को शीघ्र पूर्ण करें। उपायुक्त ने कहा कि हमारे सामूहिक प्रयास से सतत विकास के लक्ष्यों जैसे स्वास्थ्य, शिक्षा, आजीविका के क्षेत्र में बड़ा बदलाव आ सकता है। उन्होंने कहा कि सुव्यवस्थित रूप से बेहतर व्यवस्था व प्रबंधन से व्यापक बदलाव लाने की जरूरत है, ताकि समग्र विकास को बढ़ावा मिले।

Edited By: Jagran