खूंटी: त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के कायरें के सफल संचालन हेतू शनिवार को लोयला इंटर कॉलेज में दंडाधिकारियों, पीठासीन पदाधिकारियों एवं अन्य मतदान कर्मियों के लिए प्रथम चरण का प्रशिक्षण शिविर आयोजन किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम निर्देशक आईटीडीए भीष्म कुमार व नजारत उपसमाहर्ता देवदास दत्ता के द्वारा किया गया। 12 व 17 दिसंबर को दूसरे एवं तीसरे चरण का प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। प्रथम चरण का प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान मतदान कर्मियों को मतपेटियों का संचालन, विभिन्न प्रपत्रों में प्रविष्टियां आदि के संबंध में विस्तृत जानकारी दी गई। मतदान कर्मियों को मत पेटिकाओं के परिचालन, पेपर सील करने, मतदान लेखा, डायरी भरने आदि संबंध में बताया गया। मतदान कर्मियों को मास्टर ट्रेनर श्री विष्णुनंद तिवारी, शुभ नारायण झा, प्रतापचंद कुमार, प्रदीप कुमार सहित 11 मास्टर ट्रेनरों ने प्रशिक्षण दिया। आईटीडीए निर्देशक ने बताया कि पंचायत उप निर्वाचन कार्य के प्रथम चरण के प्रशिक्षण शिविर में अनुपस्थित मतदान कर्मियों के विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई की अनुशसा की गई है। -------

प्रखंडों में लगेगा नेत्र जाच शिविर

जासं, खूंटी: उपायुक्त सूरज कुमार के निर्देश पर श्रेष्ठ नेत्र चिकित्सालय, अशोक नगर, कडरु रोड, राची के द्वारा जिला के सभी प्रखंडों में निश्शुल्क नेत्र जाच शिविर का आयोजन किया जाएगा। जिसमें 17 दिसंबर को सदर प्रखंड, खूंटी किसान भवन, 18 दिसंबर को रनिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र,19 दिसंबर को कर्रा के जलटंडा सामुदायिक भवन, 20 दिसंबर को मुरहू सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, 21 दिसंबर को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, अड़की एवं 22 दिसंबर को रेफरल अस्पताल, तोरपा में शिविर का आयोजन किया जाएगा। आयोजित होने वाले शिविर में विस्तृत जानकारी के लिए खूंटी 9835141465, रनिया 7542022786, कर्रा 9199098455, मुरहू 7808224124, अड़की 7667165307 एवं तोरपा 9065910239 पर संपर्क किया जा सकता हैं।

--------

-----

लोक अदालत में 286 मामलों का निस्तारण

जासं, खूंटी: राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकार नई दिल्ली के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकार खूंटी के तत्वावधन में व्यवहार न्यायालय में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। राष्ट्रीय लोक अदालत का उद्घाटन जिला जज प्रथम राजेश कुमार ने दीप जलाकर किया। राष्ट्रीय लोक अदालत के अवसर पर विभिन्न मामलों के निष्पादन के लिए 5 बेंच का गठन किया गया था। प्रथम बेंच में अपर जिला जज प्रथम राजेश कुमार, अधिवक्ता मिलन कुमार दास एवं राजेश कुमार थे। द्वितीय बेंच में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी, अधिवक्ता मदन मोहन लाल एवं ममता सिंह थे। तृतीय बेंच पर एसडीजेएम निताशा बारला, पैनल अधिवक्ता कविता कुमारी एवं आशीष कुमार थे। चतुर्थ बेंच पर न्यायिक दंडाधिकारी रवि प्रकाश तिवारी, पैनल अधिवक्ता अनिता वर्मा एवं धनिक गुडिया मौजूद थे। इन बेंचों के अलावा प्री लिेटीगेशन मामलों के निस्तारण के लिए एक अतिरिक्त बेंच का गठन किया गया था। इस बेंच पर स्थायी लोक अदालत के अध्यक्ष माया शकर, सदस्य गौतम घोष एवं राधा रानी मौजूद थे। उक्त लोक अदालत में दीवानी एवं फौजदारी न्यायालय के सभी सुलहनीय प्रकृति के मामले, एनआई व एमवी एक्ट के मामले बिजली संबंधित मामले, पुलिस द्वारा समर्पित अंतिम प्रपत्र के मामले प्रस्तुत किए गए। लोक अदालत में बडी संख्या में वादकारी अधिवक्ता, पीएलवीएस व अन्य उपस्थित थे। उक्त संदर्भ में डालसा सचिव कणकण पट्टादार के अनुसार लोक अदालत में उक्त पांचो बेंचों के माध्यम से कुल 286 मामलों का निस्तारण किया गया। साथ ही 886064 रुपये का सेटलमेंट किया गया।

Posted By: Jagran