खूंटी : जिला मुख्यालय स्थित कन्या विद्यालय में सात स्कूलों को एक साथ मर्ज कर बनाए गए मॉडल स्कूल बीते मंगलवार से शुरू हो गया है। बुधवार को उपायुक्त सूरज कुमार ने स्कूल के छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर 15 नवंबर को इसकी विधिवत शुरुआत होगी। उन्होंने कहा कि मॉडल विद्यालय का प्रयोग को सफल कर सरकारी विद्यालयों को प्राइवेट विद्यालयों से अच्छा किया जाएगा। राज्य सरकार के द्वारा खूंटी और रामगढ़ जिले को मॉडल स्कूल प्रयोग के लिए चुना गया है। उन्होंने कहा कि बच्चों का समुचित विकास के लिए खेल का मैदान और एक खेल विषय भी बच्चों की दिनचर्या में शामिल किया जाएगा। उन्होंने बताया की बच्चों को प्रेरित करने के लिए अलग-अलग महापुरुषों की प्रतिमा लगा कर उनके जीवन के बारे में जानकारी लिखी जाएगी। साथ ही बच्चों के लिए नेशनल सोशल सर्विस की शुरुआत की जाएगी। इसमें बड़े बच्चे छोटे बच्चों को हर दिन एक क्लास लेंगे और साल के अंत में उन्हें इसके लिए सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर हम इस प्रयोग में सफल रहे तो देश में यह अपनी तरह का पहला सरकारी माडल स्कुल होगा। मौके पर प्रशिक्षु आईएएस उत्कर्ष गुप्ता, जिला शिक्षा पदाधिकारी भलनेरियन तिर्की, जिला शिक्षा अधीक्षक सुरेश प्रसाद घोष सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran