खूंटी, जासं। खूंटी जिले के मुरहू थाना क्षेत्र के हेटगोवा गांव में भाजपा नेता मागो मुंडू तथा उनकी पत्नी व बेटे को उग्रवादियों ने घर से बाहर निकालकर गोली मारकर हत्या कर दी। इस हमले में मागो मुंडू के परिवार की एक अन्य महिला नौरी मुंडू को भी गोली लगी है। उसका इलाज रिम्स, रांची में चल रहा है। इस हत्याकांड में उग्रवादी संगठन पीएलएफआइ के हाथ होने की आशंका जताई जा रही है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
मागो मुंडू भाजपा के एसटी मोर्चा के कार्यसमिति सदस्य व भाजपा के वरिष्ठ नेता थे। उनकी बेटी राधा मुंडू कुदा पंचायत की मुखिया हैं। परिजनों के अनुसार रात करीब आठ बजे कुछ वर्दीधारी युवक आए और मागो मुंडू, पत्नी लखमनी मुंडू तथा बेटे लिपराय मुंडू को घर से बाहर निकालकर गोली मार दी। गोली लगने के बाद मागो मुंडू और लिपराय मुंडू की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि लखमनी मुंडू ने अस्पताल ले जाने के दौरान रास्ते में दम तोड़ दिया।
गोलियों की आवाज सुन बाहर निकली नौरी मुंडू को भी अपराधियों ने पीठ में गोली मार दी। घायल नौरी ने बताया कि परिवार के सभी सदस्य रात को खाना खाने बैठे थे, तभी गोलियों की तड़तड़ाहट की आवाज सुनाई दी। जब वह घर से बाहर निकली, तो उसे भी उग्रवादियों ने पीछे से गोली मार दी। नौरी का एक साल का बच्चा भी डर से बीमार हो गया है।
कर्मठ नेता के रूप में थी पहचान
मागो मुंडू की क्षेत्र में कर्मठ भाजपा नेता के रूप में पहचान थी। लंबे समय से लगातार जान से मारने की धमकी दी जा रही थी। सूत्रों के मुताबिक वर्दीधारी हमलावर कम उम्र के थे। घटना की जानकारी होने पर भाजपा जिलाध्यक्ष काशीनाथ ने मृतकों के परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया।
हत्या के बाद दहशत
मुरहू में एक साथ भाजपा नेता सहित तीन लोगों की हत्या के बाद हेटगोवा गांव में दहशत है। अभी कुछ दिन पूर्व अड़की में मुखिया सुखराम मुंडा की भी अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी थी। विगत कुछ वर्षों में कई भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं की हत्याएं खूंटी में हो चुकी है।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dhyanendra Singh