खूंटी : आसन्न विधानसभा निर्वाचन-2019 के सफल क्रियान्वयन के लिए प्रतिनियुक्त सेक्टर दंडाधिकारियों की एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला समाहरणालय के सभागार में संपन्न हुई। इस अवसर पर आसन्न निर्वाचन के मद्देनजर 58-तमाड़ (अंश): प्रखंड अड़की, 59-तोरपा: प्रखंड कर्रा, तोरपा, एवं रनिया तथा 60- खूंटी: प्रखंड खूंटी, मुरहू, एवं कर्रा के लिए 72 सेक्टर दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। मौके पर जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त सूरज कुमार ने दंडाधिकारियों को दिशा-निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि चुनाव के कार्याें के निष्पादन में किसी तरह की कोताही कतई क्षम्य नहीं है। उन्होंने मतदान केंद्रों पर मतदान केंद्र का नाम, दीवार लेखन, भवन की स्थिति, बिलजी, पानी (पेयजल), शौचालय, रैम्प, उपस्कर, मार्गीय सुविधा, दूरसंचार आदि की स्थिति से संबंधित विहित प्रपत्र में प्रतिवेदन 11 सितंबर तक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। निर्देश दिया गया कि वलनरेबिलिटी मैंपिग से संबंधित प्रतिवेदन स्थानीय थाना प्रभारी के साथ समन्वय स्थापित कर किया जाना चाहिए। सेक्टर दंडाधिकारियों निर्देशित किया गया कि निर्वाचन कार्य की महत्ता को ध्यान में रखते हुए अपने कार्यों का निष्पादन सुनिश्चित करें। कार्यशाला में अनुमंडल पदाधिकारी प्रणब कुमार पाल ने सेक्टर दंडाधिकारियों को पीपीटी के माध्यम से विस्तार से उनके कार्य क्षेत्र व कार्यप्रणाली के संदर्भ में प्रशिक्षण दिया। कहा कि जिला प्रशासन निर्भीक व स्वच्छ मतदान कराने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक करने का निर्देश दिया। सेक्टर पदाधिकारियों को उनके कार्य से संबंधित विविध प्रपत्र उपलब्ध कराये गये। मौके पर भूमि सुधार उपसमाहर्ता जीतेंद्र सिंह मुडा व प्रतिनियुक्त सेक्टर दंडाधिकारी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप