तोरपा : चीन द्वारा भारतीय सैनिकों पर हमला करने के विरोध में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के अध्यक्ष कलीम खान के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने बुधवार को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिग का पुतला दहन किया। मौके पर भाजपा के वरिष्ठ नेता संतोष जायसवाल ने चीन की सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यह 1962 का भारत नहीं है, बल्कि 2020 का भारत है। आज देश का नेतृत्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मजबूत हाथों में है।

उन्होंने कहा कि चीन को उसकी गद्दारी का सबक सिखाया जाएगा। भारतीय सेना उसका मुंहतोड़ जवाब देगी। उन्होंने कहा कि हम किसी को छेड़ते नहीं हैं, लेकिन अगर कोई छेड़ता है तो उसे छोड़ते भी नहीं हैं। हमारे देश के सैनिकों की शहादत बेकार नहीं जाएगी। मंडल अध्यक्ष संजय नाग ने कहा कि चीन द्वारा दुनिया भर में फैलाए गए कोरोना वायरस से ध्यान हटाने के लिए यह काम किया जा रहा है। पुतला दहन से पहले मेन रोड में चीन के खिलाफ नारे लगाते हुए मार्च निकाला गया। इसके बाद सीमा पर शहीद हुए जवानों के सम्मान में उनकी आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन धारण कर ईश्वर से प्रार्थना की गई। मौके पर खालिक शमशाद अंसारी, ओमप्रकाश केशरी, जुम्मन अंसारी, राजा खान व मिनाज खान आदि उपस्थित थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस