मिहिजाम (जामताड़ा) : रेलनगरी स्थित चिरेका के स्टील फाउंड्री गेट के समक्ष मंगलवार को विभिन्न ट्रेड यूनियनों ने अपनी मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान रेलवे इम्प्लाइज यूनियन के किशानु भट्टाचार्य, इंटक के नेपाल चक्रवर्ती, रिटायर पेंशन होल्डर एसोसिएशन के आरएन सिंह, निर्मल मुखर्जी, सुपरवाइजर एसोसिएशन के मनोज चक्रवर्ती, मजदूर यूनियन के अरदेंधु मुखर्जी, शिक्षक संघ के अबनी बेयरा ने धरना प्रदर्शन के माध्यम से चिरेका प्रशासन पर रेल कर्मचारियों के विरुद्ध उपेक्षा का आरोप लगाया।

वक्ताओं ने कहा कि एक तो यहां के कर्मचारियों की छंटनी की जा रही है। इसके बाद भी कई वर्षों से चिरेका के विभिन्न पदों पर बहाली को ठप कर रखा गया है। एक साजिश के तहत चिरेका में आउटसोर्सिग कर्मियों को तरजीह दी जा रही है। चित्तरंजन के रेलवे स्कूलों में प्राइवेट बच्चे की भर्ती धीरे-धीरे बंद की जा रही है। चित्तरंजन के स्कूलों में पढ़ाई की स्थिति ठीक नहीं है। पर्याप्त मात्रा में शिक्षक नहीं होने से छात्रों को प्राइवेट स्कूलों में दाखिला लेना पड़ रहा है। मौके पर समाज सेवी सत्यनारायण मंडल, इंद्रजीत सिंह, उमेश मंडल, राजा सिंह सहित लेबर यूनियन, एसएसीएसटी, ओवीसी, एनएफआइआर आदि के कार्यकर्ता मौजूद थे।

Posted By: Jagran